जाकिर नाईक पर कसेगा शिकंजा, NIA ने शुरू की जांच

author image
Updated on 6 Jul, 2016 at 5:53 pm

Advertisement

विवादित इस्लामिक उपदेशक जाकिर नाईक पर शिकंजा कस सकता है। ढाका में हुए हमले में शामिल आतंकवादियों के जाकिर नाईक से प्रभावित होने की खबरों के सामने आने पर NIA और मुम्बई पुलिस ने नाईक के उपदेशों-तकरीरों की जांच शुरू कर दी है।

हालांकि, कार्रवाई पर फिलहाल कोई फैसला नहीं लिया गया है।

इस रिपोर्ट के मुताबिक, ढाका के रेस्टोरेन्ट पर हमला करने वाला आतंकवादी रोहन इम्तियाज जाकिर नाईक से प्रभावित था। उसके द्वारा इस इस्लामिक उपदेशक का नाम लिए जाने के बाद NIA सतर्क और सक्रिय हो गई है।

नाईक के उपदेशों-तकरीरों की जांच के बाद NIA इस बात का फैसला करेगा कि उसके खिलाफ कोई मामला चलाया जा सकता है या नहीं।

गौरतलब है कि मुम्बई के जाकिर नाईक पर ब्रिटेन और अमेरिका में प्रतिबंध है।

बांग्लादेश की मीडिया में कहा गया है कि अवामी लीग के बड़े नेता का बेटा रोहन इम्तियाज पिछले साल फेसबुक पर प्रचार में जुटा था, जिसमें वह जाकिर नाईक का उद्धरण दिया करता था।


Advertisement

पूरे मामले में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किरन रिजिजू का कहना हैः

“हम व्यक्तियों पर प्रतिबंध नहीं लगाते। हम संगठनों को प्रतिबंधित करते हैं। अभी तक बांग्लादेश से कोई औपचारिक अनुरोध नहीं मिला है। अगर वे हमसे अनुरोध करेंगे, तो हम देखेंगे कि क्या किया जा सकता है।”

इस बीच, जाकिर नाईक ने इस मामले में अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि उसे हैरानी नहीं है कि हमलावर उसे जानते थे। उसने कहा है कि इस महीने की 11 तारीख को वह मुम्बई आकर अगले ही दिन संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करेगा।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement