Advertisement

128 साल की यह बुजुर्ग महिला मौत को लगाना चाहती है गले, लेकिन…

Updated: 5:10 pm 19 May, 2018

Advertisement

हम सभी में एक भाव सामान्य है और वो है दीर्घायु की इच्छा। भला लंबी आयु की कामना कौन नहीं करता। हम सभी लंबे वक्त तक खुद को सेहतमंद बनाए रखने के हर संभव प्रयास करते हैं। लेकिन एक महिला ऐसी भी है जिसे अपनी लंबी उम्र से परेशानी होने लगी है। यह महिला इतनी उम्रदराज हो चुकी है कि अब ये मौत को लगे लगा लेना चाहती है।

बीते कई वर्षो से मौत के मुहाने पर बैठी दुनिया की इस सबसे उम्रदराज महिला की कहानी बेहद दुखद है। अपनी जिंदगी को सजा के रुप में काट रही इस महिला को हर ढ़लते दिन के साथ मौत के आने का बड़ी ही बेसब्री से इंतजार रहता है। उनके मुताबिक, उन्होंने अपने जीवन में एक भी अच्छा दिन नहीं देखा, बावजूद इसके वो उम्र के इस पड़ाव पर पहुंच गई हैं।

 

 

रुस के चेचेन्या की रहने वाली इस महिला का नाम कोकू इस्तामबुलोवा है। कोकू इतनी उम्रदराज हो चुकी हैं कि अब वो और नहीं जीना चाहतीं। उनकी उम्र 128 वर्ष होने का दावा किया जा रहा है। इस बात की पुष्टि खुद रुस सरकार ने की है। कोकू के पासपोर्ट पर उनके जन्म का वक्त 1889 का है, जो उनके इस दावे का समर्थन करता है। अगले महीने कोकू 129 वर्ष की हो जाएंगी।

 

इस्तामबुलोवा को अपनी ये जिंदगी बोझ सी लगने लगी है। उनके सभी बच्चे गुजर चुके हैं और इस उम्र में उनकी देखरेख करने वाला भी कोई नही है।


Advertisement

 

यहां आपको बता दें कि कोकू ने कभी भी अपनी सेहत का कोई खास ख्याल नही रखा। वो शाकाहारी भोजन का सेवन करती हैं और ज्यादातर दूध ही पीती हैं, बावजूद इसके वो इतना जी गईं।

 

 

द्वितीय विश्वयुद्ध  के दौरान उनकी उम्र 55 साल की थी। वह उस भयानक दौर का जिक्र करते हुए बताती हैं कि उस वक्त नाजियों के टैंक उनके घर में घुस आए थे। काफी वक्त तक कोकू बागीचों में काम कर अपने उदासी भरे जीवन से लड़ती रहीं, मगर अब वो थक चुकी हैं।

 

कोकू इस्तामबुलोवा अब जीना नहीं चाहती। उनके परिवार में भी अब उनका कोई नहीं है। वह इतनी जिंदगी जीकर थक चुकी हैं। उन्हें अब यह लगता है कि भगवान उन्हें सजा दे रहा है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement