117 साल की उम्र में दुनिया की सबसे बुजुर्ग महिला का निधन, 19वीं सदी की आखिरी जीवित इंसान थी

author image
Updated on 16 Apr, 2017 at 1:32 pm

Advertisement

दुनिया की सबसे बुजुर्ग महिला इटली की एम्मा मोरानो का 117 वर्ष की उम्र में निधन हो गया है। उन्हें 19वीं सदी की आखिरी जीवित इंसान का तमगा हासिल था। उन्होंने उत्तरी इटली के वर्बानिया स्थित अपने घर पर अंतिम सांस ली।

इतालवी मीडिया के मुताबिक, मोरानो का जन्म 29 नवंबर 1899 को हुआ था।

वर्बानिया के मेयर के हवाले से कहा गया-

“मोरानो का एक असाधारण जीवन था और हम जीवन में आगे बढ़ने की शक्ति के लिए उन्हें हमेशा याद रखेंगे।”


Advertisement

आपको बता दे कि मोरानो की मौत के बाद अब इस दुनिया में 1900 ईस्वी से पहले का जन्मा कोई भी शख्स जीवित नहीं है।

पिछले साल ही उन्होंने अपना 117 वां जन्मदिन बड़ी धूमधाम से मनाया था।

मोरोनो ने अपनी लम्बी उम्र का श्रेय अपनी अनुवाशिंकी और डाइट को दिया था। उनकी डाइट में प्रतिदिन तीन अंडे होते ही थे। उनके परिवार में उनकी मां की उम्र 91 साल थी और उनकी कुछ बहनें भी 100 साल की उम्र तक पहुंची थी।

मोरोनो कई सालों से अकेले ही रह रही थी। साल 1938 में उनके इकलौते बेटे का निधन हो गया था। वहीं उन्होंने अपने हिंसक पति को भी छोड़ दिया था।

कई सालों से अकेली रह रही मोरोनो को उम्र का तकाजा हो चला था। वह बड़ी मुश्किल से बोल या सुन पाती थी। उनकी नजरें भी कमजोर होने लगी थी। पिछले साल ही उन्होंने एक सेवक रखा था। वह पिछले बीस सालों से अपने दो कमरे के छोटे से घर में रह रही थी।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement