ये खूबसूरत तस्वीरें यकीनन आपका दिन बेहतर बना देंगी

Updated on 7 Jun, 2017 at 2:59 pm

Advertisement

हर तस्वीर कुछ कहती है। हर किसी तस्वीर के पीछे कोई न कोई कहानी जरूर होती है। कभी-कभी साधारण सी दिखने वाली तस्वीर के लिए सिर्फ एक झलक ही काफी नहीं होती। वो आपको अपने अन्दर झांकने के लिए प्रेरित भी कर सकती है। एक तस्वीर विभिन्न प्रकार की भावनाओं को दर्शा सकती है। आज हम आपको ऐसी ही कुछ तस्वीरें दिखाने जा रहे हैं, जो अपने अन्दर कई कहानियां समेटे हुए हैं।

कैट हाउस।

तुर्की देश में इस तरह के छोटे घर आवारा बिल्लियों के रहने के लिए बनाए जाते हैं। इनपर लिखा होता है “यह मेरा घर है, कृपया इसे नुकसान पहुचाएं।” यह पहल मानवीय है।

हम अलग दिखते हैं, मगर दोस्त हैं।

यह तस्वीर कनाडा के क्यूबैक शहर की है। इस तस्वीर में आप एक गाय और एक बिल्ली की ग़ज़ब की दोस्ती देख सकते हैं।

बिन बादल बरसात का मज़ा।

नए साल (सोंग्क्रण) के मौके पर हाथी और निवासी एक दूसरे पर पानी फेंकते हुए। यह तस्वीर थाईलैंड की है।

आभार व्यक्त करती मुस्कान।

बाढ़ से बचे एक छोटे गधे की तस्वीर, जिसमें वो मुस्कुराता हुआ प्रतीत हो रहा है।

खेल-खेल में। 

एक डेनिश पुलिस अधिकारी, एक प्रवासी बच्ची के साथ खेलते हुए।

दया मनुष्य का स्वाभाविक गुण है।

एक फ्लाइट अटेंडेंट, बुज़ुर्ग यात्री को खाना खिलाते हुए।

जिंदगी और खुशी।

लकवाग्रस्त कुत्ते व्हीलचेयर की मदद से सामान्य ज़िन्दगी जीने की कोशिश करते हुए। तस्वीर पेरू के शहर लीमा की है।

जन्मदिन मुबारक।


Advertisement

एक ज़ूकीपर (चिड़ियाघर की देखरेख करने वाला), वालरस (दरियाई गाय) को उसके जन्मदिन पर तोहफा देते हुए।

चलता फिरता पुस्तकालय।

रिद्वान सुरूरी एक विशेष पुस्तकालय के लिए नई किताबों का चयन करते हुए। तस्वीर इंडोनेशिया की है।

जानवरों से प्यार।

नओतो मात्सुमुरा अकेले ऐसे इंसान हैं, जो फुकुशीमा एक्स्क्लुसन ज़ोन जैसी जगह पर रहने से नहीं डरते। शुरू में वो भी दूसरों के साथ उस शहर को छोड़ कर चले गए थे, लेकिन फिर अपने घर में छूटे जानवरों की देखभाल करने के लिए वापस आ गए।

घर के रास्ते पर।

दो लड़के स्कूल से छुट्टी होने के बाद घर लौटते हुए। तस्वीर केन्या के शहर नैरोबी की है।

जान दांव पर लगा कर बचाया।

बिलाल नाम के इस लड़के ने बाढ़ ग्रस्त क्षेत्र में एक हिरन के बच्चे को डूबने से बचाया। तस्वीर बांग्लादेश में स्थित नोआखली की है।

नीले मैदान के पार।

दो लड़कियाँ ब्लुबेल्स के खेत में भागती हुई। यह तस्वीर दक्षिण इंग्लैंड के मार्लबोरो में ली गई थी।

दयालु होना बहुत ज़रूरी है।

जब पांच बच्चों की मां को तत्काल प्रभाव से अस्पताल में भरती होना पड़ा, तब इन पुलिसवालों ने न सिर्फ घर के जूठे बर्तन धोए, बल्कि उन बच्चों के लिए खाना भी बनाया।

खुशनुमा ज़िन्दगी।

एक बुज़ुर्ग महिला अपने घर के बाहर एक बिल्ली के बच्चे के साथ खेलते हुए। तस्वीर चीन के शंघाई शहर की है।

 

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement