सूख गया दुनिया का चौथा सबसे बड़ा समुन्दर, ये है वजह

author image
Updated on 17 Sep, 2016 at 9:09 pm

Advertisement

दुनिया का चौथा सबसे बड़ा समुन्दर कहे जाना वाला अरल सागर अब पूरी तरह सूखने की कगार पर है। इस सागर का 90 फीसदी हिस्सा सूख चुका है।

अरल सागर को द्वीपों का समुन्दर कहा जाता था। इस समुन्दर में कुल 1,534 द्वीप थे। माना जा रहा है कि अरल सागर का सूखना करीब 50 साल पहले शुरू हुआ था। कजाखस्तान और उत्तरी उज्बेकिस्तान के बीच मौजूद सूख रहे इस समुन्दर का एक विडियो अमेरिकी अंतरिक्ष एजेन्सी नासा ने तैयार किया है।

इस विडियो से पता चलता है कि यह सागर करीब 90 फीसदी तक सूख चुका है।


Advertisement

इस सागर के सूखने की शुरुआत 1960 में सोवियत संघ के नदी परियोजना की वजह से हुई थी। परियोजना के लिए नदियों का बहाव मोड़ दिया गया और यही वजह है कि अरल सागर सूखने लगा और 1970 तक यह 4 भागों में बट गया था।

इस सागर के सूखने की वजह से यहां मछली पालन उद्योग को बड़ा झटका लगा है। यही नहीं, इसके सूखने की वजह से इसके आसपास के क्षेत्रों में मौसम पर जबर्दस्त प्रभाव पड़ा है।

कजाखस्तान ने सागर के उत्तरी हिस्से को भरने के लिए 2005 में एक डैम का निर्माण किया। हालांकि, वर्ष 2008 में खासा पानी छोड़ने के बावजूद इस पर कोई असर नहीं दिखा।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement