चीन में बनी दुनिया की पहली ‘सोलर सड़क’ को चुरा ले गए चोर

Updated on 13 Jan, 2018 at 12:55 pm

Advertisement

सार्वजनिक निर्माण के समय सरकार या संस्थाएं जनहित को सोचकर काम करती हैं। वहीं, यह सोचना थोड़ा अजीब लगता है कि जिसके लिए काम किया जा रहा है, वही इसे नुकसान पहुंचा सकता है। चीन में बनी विश्व की पहली सौर-संचालित सड़क के साथ कुछ इसी तरह का हादसा हुआ, जो कि चौंकाने वाला है।

पिछले महीने के अंत में चीन ने दावे के साथ सड़क को लांच किया जो अपनी तरह का विश्व भर में पहला प्रयास था। इस परियोजना पर निराशावादी लोगों ने अनेकों मीन-मेष निकाले, लेकिन किसी ने भी नहीं सोचा कि इसे चोरी भी किया जा सकता है। चोर इसे ले गए हैं। अब इस तरह के हादसे ने एक बार फिर लोगों को सोचने पर मजबूर कर दिया है।

सौर-संचालित इस सड़क का परिचालन पिछले 2 जनवरी को शुरू किया गया था। जिनान प्रान्त के शेडोंग इलाके में बने इस सड़क के नियमित निरीक्षण के दौरान अधिकारियों ने 10-15 सेंटीमीटर चौड़े और 1.85 मीटर लंबे हिस्से को रहस्यमय तरीके से गायब पाया।

स्थानीय समाचार एजेंसी के मुताबिक, सड़क के एक भाग को एक योजनाबद्ध तरीके से और पेशेवर चोरों के गिरोह ने चोरी कर लिया है। हालांकि, चोरी गए हिस्से की कीमत कुछ खास नहीं है। लोगों का मानना है कि इस सड़क बनाने के प्रोसेस और तकनीक जानने के लिए किसी ने इस तरह की हरकत की है।


Advertisement

बता दें कि सड़क के 1 किलोमीटर लंबे मार्ग में तीन परतें हैं। शीर्ष पर पारदर्शी ठोस, बीच में सौर-संचालित पैनल और तल पर इन्सुलेशन। पैनल कुल 5,875 वर्ग मीटर का है और एक वर्ष में 1 मिलियन किलोवाट घंटे की बिजली उत्पन्न कर सकता है। यह सड़क इस इलाके के करीब 800 घरों के ऊर्जा की मांग को पूरा करने के लिए पर्याप्त है।

इसे ‘दुनिया की पहली फोटोवोल्टिक राजमार्ग’ कहा गया है। चोरी हुए भाग की मरम्मत कर दी गई है और ये सामान्य हो गया है। पुलिस मामले की तहकीकात कर रही है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement