कहीं पेशाब तो कहीं ब्रेस्ट पर टैक्स, बेहद अजीबो-गरीब है इन देशों का सिस्टम

7:09 pm 5 Jan, 2019

Advertisement

हर देश की अर्थव्यवस्था का पहिया टैक्स से ही चलता है। टैक्स को लेकर विश्वभर में अलग-अलग तरह के कानून बनाए गए हैं। अधिकतर लोग सर्विस और इनकम टैक्स के बारे में ही जानते हैं। लेकिन हम यहां आपको कुछ ऐसे टैक्सेज़ के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसे जानने के बाद आपको भी अचरज होगा इस तरह का टैक्स कैसे लगाया जा सकता है।

 

 

सेक्स टैक्स

जर्मनी में साल 2004 को प्रॉस्टिट्यूशन कानून बना कर उसे लीगल कर दिया गया। यहां हर महीने प्रॉस्टिट्यूट्स को लगभग 150 यूरो टैक्स भरने पड़ते हैं। जर्मनी सरकार को सेक्स टैक्स से 1 मिलियन यूरो राशि अर्जित होती है।


Advertisement

 

गाय पर टैक्स

ये सुनने में थोड़ा अजीब है। लेकिन यूरोपीय देशों में गाय पालने पर टैक्स भरना पड़ता है। यूरोपीय यूनियन का कहना है गाय हरे चारे को पचाने के लिए जुगाली करती है, जिससे मिथेन गैस का रिसाव होता है। यही वजह है डेनमार्क में एक गाय रखने पर 7400 रुपये का टैक्स देना पड़ता है।  

 

 

 

ब्रेस्ट टैक्स

ब्रेस्ट टैक्स का इतिहास बेहद हैरान कर देने वाला है। दक्षिण भारत के त्रावनकोर में 19वीं सदी में छोटी जाति की महिलाओं को ब्रेस्ट टैक्स देना पड़ता था। महिलाओं की ब्रेस्ट को मापकर टैक्स वसूला जाता था। नियम के अनुसार, छोटी जाति की महिलाओं को शरीर के ऊपरी अंगों को ढकने की इजाज़त नहीं थी। अगर कोई महिला अपना उपरी बदन ढकती थी तो उसे उसके लिए टैक्स भरना होता था। लेकिन नांगेली नाम की बहादूर महिला ने इस नियम के विरोध में टैक्स के रुप में अपने ब्रेस्ट काट कर कलेक्टर्स को दे दिए। नांगेली के बलिदान की वजह से इस नियम को अगले दिन ही खत्म कर दिया गया था।

 

 

टैटू टैक्स

अमेरिका के अरकानसास में टैटू बनवाने और पियरसिंग सर्विस पर लगभग 6 फीसदी का टैक्स देना पड़ता है। ये कानून साल 2005 में बनाया गया था।



 

 

 

यूरिन पर टैक्स

अब आप सोच रहे होगें भला कोई पेशाब करने के लिए टैक्स कैसे ले सकता है। लेकिन रोम के राजा ने यूरिन पर टैक्स लगा दिया था। यूरिन टैक्स के पैसों से बदबू आती है ऐसा कहकर राजा के बेटे टाइटस ने जमकर इसका विरोध किया था।

 

 

दाढ़ी रखने पर टैक्स

इस टैक्स के बारे में सुनकर शायद पुरुषों को यकिन ना हो लेकिन ये सच है। रुसी रूलर पीटर द ग्रेट ने 1705 में क्लीन शेव कल्चर की नकल करते हुए दाढ़ी पर टैक्स लगाया। सबूत के तौर पर टैक्स का भुगतान करने वाले को टोकन दिया जाता था।

 

 

ताश के पत्तों पर टैक्स

अमेरिका के अलाबामा में ताश के पत्तों की डब्बी खरीदने पर 10 सेंट टैक्स देना पड़ता है।  वहीं इसको बेचने वाले को 3 डॉलर के लाइसेंस फ़ीस के अलावा लगभग 1 डॉलर टैक्स भरना पड़ता है।

 

oneindia


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement