दुनिया की इस सबसे लंबी कार के आगे फ़ेल थे फाइव स्टार होटल भी, मौजूद थीं कई आलीशान सुविधाएं

Updated on 24 Sep, 2018 at 1:50 am

Advertisement

तकनीक की बदौलत कारों की दुनिया में भी आश्चर्यजनक बदलाव आ चुके हैं। अब दुनियाभर में एक से बढ़कर एक अनोखी कार मौजूद हैं, लेकिन बावजूद इसके एक कार ऐसी भी है जिसके टक्कर की दूसरी कार नहीं बनी है। ‘द अमेरिकन ड्रीम’ की शानदार कार को कभी दुनिया की सबसे लग्जीरियस कार माना जाता था। इस कार पर स्वीमिंग पूल से लेकर हेलीपैड तक सब कुछ था।

 

 

दुनिया की सबसे लंबी कार ‘द अमेरिकन ड्रीम’  को 1986 में बनाया गया था। यह लिमोजिन 100 मीटर लंबी थी। इस विशाल कार में 26 टायर लगाए गए थे। किसी होटल से भी आलिशान इस कार की कीमत तकरीबन 27 करोड़ रुपये से भी ज़्यादा थी।

 

आपने आजतक शायद ही कभी किसी कार के ऊपर हेलपैड देखा होगा, लेकिन ये कार इतनी विशाल थी कि इस पर हेलीपैड भी मौजूद था यानी कि कार में हेलिकॉप्टर उतारने की जगह बनाई गई थी।

 

 


Advertisement

इसके अलावा इसमें स्विमिंग पूल, किचन, बाथरूम और सोने के लिए शानदार बेड की व्यवस्था थी। इस कार में दो इंजन लगे थे, एक आगे की ओर तो दूसरा पीछे की तरफ। यानी बाकी कारों की तरह ये एक तरफ से नहीं, बल्कि दोनों तरफ से चलाई जा सकती थी। जब जिस दिशा में जाना हो वहां के केबिन से इसकी ड्राइविंग की जाती थी।

 

 

इस आलिशान कार का नाम दुनिया की सबसे लंबी कार के रुप में गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज है। इतने सालों बाद भी सबसे लंबी कार का रिकॉर्ड इसी के नाम है, मगर ये शानदार कार अब खस्ताहाल हो चुकी है।

 

खबरों की मानें तो इस कार को नया लुक देने पर विचार चल रहा है। कार की हालत भले ही अब खराब हो चुकी है, लेकिन अमेरिकी लोगों के बीच इसकी चर्चाएं आज भी होती है और इसकी वजह है इसका शानदार इतिहास।

 

 

‘द अमेरिकन ड्रीम’ एक लिमोजिन कार है। दरअसल, लिमोजिन कोई ब्रांड नहीं, बल्कि कार की एक क्लास है। यानी आप किसी भी ब्रांड की कार खरीदकर उसे अपने हिसाब से मोडिफाई कराके लिमोजिन कार बना सकते हैं। यदि ‘द अमेरिकन ड्रीम’ नए लुक के साथ फिर से आती है तो यकीनन लोगों को एक बेहतरीन कार देखने को मिलेगी।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement