भारत के खिलाफ विश्व बैंक की साजिश! मोदी सरकार नाराज

author image
Updated on 26 Oct, 2016 at 11:40 am

Advertisement

भारत में व्यवसाय को आसान करने के सरकार के प्रयासों का परिणाम आ गया है, हालांकि सरकार इससे खुश नहीं है। व्यवसाय आसान करने की रैंकिंग में विश्व बैंक ने भारत को 130वें स्थान पर रखा है। इस सूची में 190 देश शामिल हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है कि दुनिया के रिकॉर्ड 137 देशों ने अहम सुधारों को अपनाया है, जिनसे स्मॉल और मीडियम साइज बिजनेस शुरू करना और चलाना आसान हुआ है।

इससे पहले भारत 131वें स्थान पर था और अब इसके स्कोर में मामूली सुधार आया है। केन्द्र सरकार इस रिपोर्ट के आने के बाद विश्व बैंक से नाराज है। सरकार का मानना है कि इस रिपोर्ट में 12 अहम सुधारों को नजरअंदाज किया गया है। गौरतलब है कि सरकार का लक्ष्य देश को इस सूची के शीर्ष-50 देशों में शामिल करना है।

विश्व बैंक की इस सूची में न्जूजीलैंड पहले पायदान पर है, जबकि पाकिस्तान को 144वां स्थान प्राप्त है।

भारत सरकार के उद्योग सचिव रमेश अभिषेक का कहना है कि वर्ल्ड बैंक ने इन सुधारों पर गौर नहीं किया भारत ने बैंकरप्सी कोड, जीएसटी, बिल्डिंग कस्ट्रक्शन मंजूरी के लिए सिंगल विंडो सिस्टम, ऑनलाइन ईएसआईसी और ईपीएफओ– के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन जैसे 12 अहम सुधार किए हैं, लेकिन विश्व बैंक ने इन पर गौर नहीं किया है।


Advertisement

इस सूची में सिंगापुर, डेनमार्क, हांगकांग, दक्षिण कोरिया क्रमशः दूसरे, तीसरे, चौथे और पांचवें पायदान पर हैं।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement