इतिहास में पहली बार, अब महिलाओं के हाथ में देश के चार बड़े हाईकोर्ट्स की कमान

author image
7:16 pm 8 Apr, 2017

Advertisement

देश की महिलाओं ने न्यायिक सेवा में एक नया इतिहास कायम किया है। देश में पहली बार चारों बड़े और पुराने हाई कोर्ट्स बॉम्बे, मद्रास, कलकत्ता और दिल्ली हाई कोर्ट में चीफ जस्टिस की कुर्सी पर महिलाएं आसीन हुईं हैं। इन चारों हाई कोर्ट की स्थापना औपनिवेशिक सत्ता के दौरान हुई थी।

मद्रास हाई कोर्ट की चीफ जस्टिस के तौर पर इंदिरा बनर्जी की नियुक्ति के साथ ही देश की महिलाओं के नाम यह इतिहास दर्ज हुआ है।

judge

बाएं ओर इंदिरा बनर्जी amazonaws

इससे पहले 22 अगस्त 2016 को मंजुला चेल्लूर बॉम्बे हाईकोर्ट की चीफ जस्टिस बनीं।

manjula

मंजुला चेल्लूर worldtvnews

वहीं, निशिता निर्मल म्हात्रे एक दिसंबर 2016 से कलकत्ता हाईकोर्ट की मुख्य न्यायाधीश हैं।

nishita

निशिता निर्मल म्हात्रेlivelaw

उधर, दिल्ली हाइकोर्ट में भी चीफ जस्टिस के पद पर जस्टिस जी रोहिणी काबिज हैं, जिन्होंने 13 अप्रैल, 2014 को कार्यभार संभाला था।

judge

जी रोहिणी tkbsen


Advertisement

आपको बता दें कि देश में कुल 24 हाई कोर्ट हैं। इनमें 632 जज कार्यरत हैं, जिनमें से महिला जजों की संख्या मात्रा 68 है। वहीं, 28 जजों वाले सुप्रीम कोर्ट में भी सिर्फ एकमात्र महिला जज के रूप में जस्टिस आर. भानुमति पदासीन हैं।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement