Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

इस महिला ने ग्रामीण औरतों को ‘रानी मिस्त्री’ बना, अपने गांव को किया खुले से शौच मुक्त

Published on 8 March, 2019 at 5:46 pm By

साल 2014 में स्वच्छ भारत के तहत केंद्र सरकार ने एक हजार शौचालय बनाने की घोषणा की थी। सरकार का कहना है कि देशभर के 90 फीसदी हिस्से में शौचालय की सुविधा मुहैया करा दी गई है। ये बात सही है कि मोदी सरकार के आने के बाद ग्रामीण इलाकों में शौचालय बनाने के काम ने रफ्तार पकड़ी थी। लेकिन अभी भी जमीनी स्तर पर काफी बदलाव होना बाकी है। देश में कई गांव ऐसे हैं जहां लोग अभी भी खुले में शौच करने को मजबूर है।


Advertisement

हालांकि झारखंड की रहने वाली सुनीता देवी अपने गांव को ‘खुले में शौच मुक्त’ करने की दिशा में प्रयासरत हैं और गांव की महिलाओं को रानी मिस्त्री बनाकर स्वच्छ भारत मिशन में उनकी सहभागिता सुनिश्चित कर रही हैं। इतना ही नहीं सुनीता देवी ने महिलाओं को रानी मिस्त्री बनाकर उन्हें आर्थिक रुप से भी सशक्त किया है। उनकी इस पहल के बाद गांव में जगह-जगह शौचालय बनाने का काम शुरु हुआ।

 

सुनीता देवी ने कुछ समय पहले एक मिशन की शुरुआत की थी। इस अभियान के तहत उन्होंने अपने गांव उदयपुरा को ‘खुले में शौच मुक्त’ करने के लिए एक मुहीम छेड़ी।

पहले तो उन्होंने राज मिस्त्रियों से गांव में शौचालय बनाने के लिए अनुरोध किया। लेकिन गांव में पुरुष के इस काम को निम्नता से जोड़कर देखने के चलत उन्हें इसके लिए महिलाओं को रानी मिस्त्री बनाने के लिए प्रेरित करना पड़ा। अपने मिशन के दौरान सुनीता ने उन ग्रामीण इलाकों में टॉयलेट शौचालय बनाने शुरु किए जहां  ग्रामीणों के पास इतने पैसे नहीं थे कि वह टॉयलेट बना सके।



 

 

सुनीता की माने तो गांव में लोगों ने उनके इस कदम को काफी सराहा है। उनका मानना है कि वो अपने परिवार की अपेक्षाओं पर खरी उतरी हैं। गांव में उनके इस कदम से लोगों की मानसिकता में भी खासा बदलाव आया है और अब वो महिलाओं को रानी मिस्त्री के तौर पर काम करने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। उनके इस सराहनीय कदम से उनके गांव के हर घर में एक शौचालय बन चुका है।


Advertisement

सुनीता के मुताबिक अब यहां की महिलाएं रानी मिस्त्री का काम बखूबी कर लेती हैं। इतना ही नहीं रानी मिस्त्री बनकर महिलाएं आर्थिक रूप से समृद्ध भी हुई हैं  और उन्हें मजदूरी के लिए दर-दर की खाख नहीं छाननी पड़ती।

Advertisement

नई कहानियां

Sapna Choudhary Songs: सपना चौधरी के ये गाने किसी को भी थिरकने पर मजबूर कर दें!

Sapna Choudhary Songs: सपना चौधरी के ये गाने किसी को भी थिरकने पर मजबूर कर दें!


जानिए कैसे डाउनलोड करें YouTube वीडियो, ये है आसान तरीका

जानिए कैसे डाउनलोड करें YouTube वीडियो, ये है आसान तरीका


प्रधानमंत्री आवास योजना से पूरा होगा ख़ुद के घर का सपना, जानिए इससे जुड़ी अहम बातें

प्रधानमंत्री आवास योजना से पूरा होगा ख़ुद के घर का सपना, जानिए इससे जुड़ी अहम बातें


ब्रह्माजी को क्यों नहीं पूजा जाता है? एक गलती की सज़ा वो आज तक भुगत रहे हैं

ब्रह्माजी को क्यों नहीं पूजा जाता है? एक गलती की सज़ा वो आज तक भुगत रहे हैं


Hindi Comedy Movies: बॉलीवुड की ये सदाबहार कॉमेडी फ़िल्में, आज भी लोगों को गुदगुदाने का माद्दा रखती हैं

Hindi Comedy Movies: बॉलीवुड की ये सदाबहार कॉमेडी फ़िल्में, आज भी लोगों को गुदगुदाने का माद्दा रखती हैं


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें News

नेट पर पॉप्युलर