Advertisement

इंडियन आर्मी तैयार कर रहा है ‘साइबर लड़ाके’, लड़कियों के हाथों में कमान!

Updated: 4:35 pm 25 Oct, 2017

Advertisement

ये तो कहा ही जा रहा था कि आनेवाले समय में दो देशों के बीच हथियारों के बजाए साइबर हमलों के जरिए युद्ध होंगे। लिहाजा तैयारी जरूरी है।

भारतीय सेना ने इसी जरूरत को देखते हुए ‘साइबर सेल’ के गठन पर जोर दे दिया है। सेना ने इस फ्रंट पर महिलाओं की तैनाती का प्रस्ताव रखा है। मंजूरी मिलने पर महिला सैनिकों को बेहतर पद और पोजिशन मिल सकेगी।

आर्मी चीफ़ बिपिन रावत के अनुसारः


Advertisement

“कुछ एक्सपर्ट्स के साथ मिल कर हम इस टीम को जल्द से जल्द से हरी झंडी देना चाहते हैं, जिससे महिला अफ़सरों की स्किल्स का सही इस्तेमाल हो सके। इससे भारतीय सेना साइबर फ्रंट पर भी मजबूत होगी।”

गौरतलब है कि महिला अफसरों का चयन भी फिज़िकल और मेंटल टेस्ट के बाद ही होता है, लेकिन वॉर फ्रंट पर उन्हें उस तरह की जिम्मेदारी नहीं दी जाती। भारतीय सेना के इस साइबर सेल के प्रस्ताव को महिला अफसरों के सही इस्तेमाल और सेना की ताकत को और मजबूती के रूप में देखा जा सकता है।

साइबर सेल की मजबूती ही सैन्य ताकतों का भविष्य है। ये कदम निश्चय प्रशंसनीय है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement