इस महिला ने खुद को बताया संजय गांधी की बेटी, फिल्म के खिलाफ पहुंची अदालत

author image
Updated on 11 Jul, 2017 at 10:26 am

Advertisement

प्रिया सिंह पॉल नामक एक महिला ने खुद के संजय गांधी की बेटी होने का दावा किया है।

48 वर्षीया प्रिया ने रिलीज होने जी रही फिल्म “इंदु सरकार” पर रोक लगाने की मांग की है। इस फिल्म को जानेमाने फिल्मकार मधुर भंडारकर बना रहे हैं।

प्रिया का दावा है कि इस फिल् में उनके जैविक पिता संजय गांधी तथा उनकी मां इंदिरा गांधी को गलत तरीके से फेस किया गया है। इसके लिए वह अदालत भी पहुंची है। तीस हजारी अदालत में दायर याचिका में प्रिया ने कहा है कि उन्हें गोद लिए जाने के दस्तावेज “जाली” हैं और फिल्म में तथ्यों को तोड़मरोड़ कर पेश किए जाने की वजह से उसे अपनी “चुप्पी” तोड़नी पड़ी है।

प्रिया सिंह पॉल कई प्राइवेट चैनलों पर बतौर एंकर, राइटर और डायरेक्टर काम चुकी हैं। उनका कहना है कि संजय गांधी उनके जैविक पिता थे। जब उनका जन्म हुआ तब उनका नाम प्रियदर्शिनी रखा गया था। प्रिया को एक सिख परिवार ने अपनाया।



अब तक सिर्फ मेनका गांधी को संजय गांधी की पत्नी और वरुण गांधी को उनकी संतान होने का गौरव हासिल था। मामले में कितनी सच्चाई यह तो जांच के बाद पता चलेगा।

संजय गांधी की 1980 में एक विमान दुर्घटना में मौत हो गई थी। संजय पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के छोटे बेटे थे। संजय को इंदिरा गांधी का उत्तराधिकारी समझा जाता था। संजय की मौत के बाद उनके बड़े भाई राजीव गांधी राजनीति में सक्रिय हुए।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement