आखिर सड़क पर क्यों बनाई जाती हैं सफेद और पीली पट्टियां?

author image
Updated on 1 Mar, 2017 at 11:47 pm

Advertisement

भारत में सड़क सुरक्षा हमेशा से ही गंभीर मसला रहा है। सिर्फ 2013 की आंकड़ों की बातें करें तो इस साल 1 लाख से अधिक लोगों ने अलग-अलग सड़क दुर्घटनाओं में अपनी जानें गंवाई हैं। इन दुर्घटनाओं को कम करने की जिम्मेदारी न केवल सरकार की है, बल्कि इन सड़कों का उपयोग करने वाले आम नागरिकों की भी है। जहां तक ट्रैफिक नियमों की बात है तो आम नागरिक रेड लाइट पर रुकने भर को ही अपने कर्तव्यों की इतिश्री मान लेता है। इसका कारण है जानकारी का अभाव।


Advertisement

लगातार बढ़ रही सड़क दुर्घटना की घटनाओं के बीच क्या आपने कभी सोचा है कि सड़कों पर लगाई गई सफेद और पीली पट्टियों का भी मतलब होता है। साथ ही यह सड़क सुरक्षा के लिहाज से बेहद महत्वपूर्ण भी है।

1. सड़क के बीचोबीच मोटी सी दिखने वाली सफेद पट्टी दरअसल इस बात का इशारा है कि आपको अपना लेन नहीं बदलना चाहिए, बल्कि इस पट्टी की बाईं तरफ से चलते हुए आगे बढ़ना चाहिए।

2. इस तरह की पट्टियों का मतलब है कि अगर आप लेन बदलना चाह रहे हैं तो आपको सतर्क लना चाहिए। आप ध्यान दीजिए कि पीछे से कहीं कोई वाहन तो नहीं आ रहा।

3. इस मोटी पीली पट्टी का मतलब है कि आप किसी वाहन को ओवरटेक तो कर सकते हैं, लेकिन पीली पट्टी के बाहर जाते हुए नहीं। हालांकि, यह नियम अलग-अलग राज्यों के लिहाज से अलग-अलग बनाए गए हैं। मसलन, तेलंगाना में पीली पट्टी होने की स्थिति में आप ओवरटेक नहीं कर सकते।

4. इन दोहरी पीली पट्टी का मतलब है कि आप इन्हें पार नहीं कर सकते।

5. इस तरह की पट्टी का मतलब है कि आप पार कर सकते हैं, लेकिन सावधानी के साथ।

6. अगर आप लंबी पीली पट्टी पर ड्राइव कर रहे हैं तो समझना चाहिए कि आप ओवरटेक कर सकते हैं। अगर टूटी हुई पट्टी पर आगे बढ़ रहे हैं तो ओवरटेक करना खतरे से खाली नहीं है।

अब तो आप समझ ही गए होंगे कि सुरक्षा के लिहाज से सड़क प बनाई गईं ये पट्टियां कितनी महत्वपूर्ण हैं।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement