फिल्ममेकर विशाल भारद्वाज ने पाकिस्तान में कही बड़ी बात और उनसे सभी सहमत नहीं हो सकते

author image
Updated on 3 Apr, 2018 at 5:21 pm

Advertisement

मशहूर फिल्ममेकर विशाल भारद्वाज पिछले दिनों पाकिस्तान के कराची शहर गए हुए थे। वहां वह अपनी पत्नी और गायिका रेखा भारद्वाज के साथ पाकिस्तान इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल (PIFF-2018) में हिस्सा लेने पहुंचे थे।

 

 


Advertisement

उन्होंने पांच साल बाद पाकिस्तान की सरजमीं पर कदम रखा। वह उन भारतीयों कलाकारों में से एक रहे, जो PIFF-2018 का हिस्सा बनकर पाकिस्तान गए हुए हैं।

 

अपनी पत्नी के साथ विशाल भारद्वाज indiatvnews

 

राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित विशाल भारद्वाज ने इस कार्यक्रम के दौरान भारत-पाकिस्तान के रिश्तों के बारे में भी बात की। उन्होंने कहाः

 

“मैं पाकिस्तान से प्यार करता हूं, लेकिन यह दुःख की बात है कि हमारे (भारत-पाकिस्तान) बीच हमेशा तनाव रहता है। जब भी यहां आता हूं, मुझे यहां दोबारा आने की वजह मिल जाती है। मुझे यहां कोई बदलाव नजर नहीं आया। सिर्फ एक चीज जो यहां बदली है, वह यह है कि हमारे लिए यहां प्यार बढ़ा है।”

 

उन्होंने दोनों देशों के बीच मनमुटाव को कैसे कम किया जाए इस पर अपनी बात रखी। उन्होंने कला को इसका एकमात्र जरिया बताया। उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच जितना सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आदान-प्रदान होगा, उतना ही रिश्तों में तल्खी कम होने की सम्भावना बढ़ेगी।

 

 



 

भारद्वाज का मानना है कि अगर भारत-पाक कदम से कदम मिलाकर चलें तो दोनों ही एक बड़ी शक्ति बनकर उभर सकते हैं। उन्होंने कहाः

 

“हम सब एक जैसे हैं और अगर हम साथ आते हैं तो हम दुनिया में हर क्षेत्र-सांस्कृतिक, आर्थिक के साथ ही राजनीति में भी बड़ी शक्ति बन जाएंगे।”

 

 

विशाल ने भारत में पाकिस्तानी कलाकारों के बैन पर भी अपनी राय जाहिर की। उन्होंने कहाः

 

“अगर भारत के लोगों को पाकिस्तानी एक्टर्स पसंद नहीं होते तो वह उनकी फिल्में देखने नहीं जाते। इसलिए, देश के लोगों में पड़ोसी मुल्क के एक्टर्स के बारे में कोई दुर्भावना नहीं है। पाक कलाकारों का विरोध राजनीतिक है, वर्ना फवाद खान भारत में सुपरस्टार कैसे बन जाते?”

 

विशाल ने भारत-पाक के रिश्तों को लेकर जो बात कही है आप उससे कहां तक इत्तेफाक रखते हैं। हमें कमेंट के जरिए जरूर बताएं।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement