वाराणसी से हल्दिया के बीच जल परिवहन, गंगा नदी में तैयार किया जा रहा है रास्ता

Updated on 22 Jun, 2016 at 5:50 pm

Advertisement

वाराणसी से हल्दिया के बीच जल परिवहन का सपना जल्दी ही साकार हो सकेगा। केन्द्र सरकार को उम्मीद है कि वाराणसी से हल्दिया के बीच इस साल के अंत तक 1,000 टन भार वहन क्षमता के जहाजों का वस्तु व यात्री परिवहन के लिए परिचालन शुरू हो जाएगा।

इस रिपोर्ट के मुताबिक, जल मार्ग विकास परियोजना के तहत 1,620 किलोमीटर के राष्ट्रीय जलमार्ग-1 परियोजना के तहत काम चल रहा है।

इसके तहत तीन मीटर की जरूरी गहराई वाले जहाज के लिए रास्ता तैयार किया जाएगा। बाद में इसी रास्ते पर 2,000 टन वहन की क्षमता वाले जहाजों का परिचालन किया जा सकेगा।

transreporter

transreporter


Advertisement

बताया गया है कि इस परियोजना पर 4,200 करोड़ रुपए की लागत आएगी। बाद में इलाहाबाद तक इसे ले जाने की योजना है।

विशेषज्ञ मानते हैं कि जहाजों का परिचालन शुरू होने पर जलमार्ग से माल-वाहन को प्रोत्साहन मिलेगा, जो पर्यावरण अनुकूल है।



गौरतलब है कि जलमार्ग के द्वारा ईधन की खपत कम होती है और यह परिवहन का एक सस्ता माध्यम है। इस परियोजना को विश्व बैंक की तरफ से मदद मिल रही है।

इलाहाबाद और हल्दिया के बीच 1,620 किलोमीटर का यह जलमार्ग 4,200 करोड़ रुपए की लागत से छह साल में पूरा किया जाना है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement