उत्तराखंड में सार्वजनिक स्थलों पर थूकने पर भारी जुर्माना, साथ ही हो सकती है 6 महीने की जेल

author image
Updated on 24 Mar, 2017 at 3:36 pm

Advertisement

आप देखते होंगे कि कैसे कुछ लोग पान-गुटका खाकर कहीं पर भी थूक देते हैं। ऐसे लोगों पर नकेल कसने के लिए उत्तराखंड में नई बीजेपी सरकार ने बड़ा ऐलान किया है।

उत्तराखंड में नए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की सरकार ने कार्यालयों और अन्य सार्वजनिक स्थलों पर थूकने और गंदगी फैलाने पर 5,000 रुपए या 6 महीने की जेल या दोनों की सजा का प्रावधान रखा है।

शहर विकास विभाग के अधिकारियों का कहना है कि यह आदेश राज्य के सभी नगर निगमों को भेज दिया गया है। इस एक कदम से यकीनन राज्य में स्वच्छता अभियान को बढ़ावा मिलेगा, साथ ही अन्य राज्य भी स्वच्छता के लिए प्रेरित होंगे।

TOI ने शहरी विकास विभाग के सचिव अरविंद सिंह हयांकी का हवाला देते हुए लिखा हैः

“हमने इसे लागू करने के लिए कड़े निर्देश दिए हैं। यह कानून आज से पांच महीने पहले बना था। अभी तक यह शहरी इलाकों में लागू था, लेकिन अब इसे ग्रामीण इलाकों में भी लागू किया जा रहा है। हम लोग सुनिश्चित करेंगे कि लोग सार्वजनिक स्थल पर कचरा ना डालें।”


Advertisement

देहरादून नगर निगम के स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. कैलाश गुंज्याल ने स्रोत से बातचीत में कहाः

“हमने स्वच्छता के लिए कई टीम बनाई हैं, जो शहर में नियमित निगरानी रखेगी। इसके अलावा बार-बार गंदगी फैलाने वालों का तुरंत चालान काटने के लिए चालान बुक भी दी जाएगी। यदि कोई बार-बार इस अपराध को दोहराएगा, उसका चालान भी कटेगा और कानूनी कार्रवाई भी की जाएगी।”

आपको बता दें कि इससे पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी सरकारी दफ्तरों में पान और गुटके पर प्रतिबंध लगाया है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement