पाकिस्तान ने 15 दिन में दो बार दी भारत पर परमाणु हमले की धमकी, अमेरिका ने जताई कड़ी आपत्ति

author image
Updated on 1 Oct, 2016 at 12:58 pm

Advertisement

पाकिस्तान द्वारा भारत पर परमाणु हमले की लगातार धमकियों पर अमेरिका ने कड़ी आपत्ति जताई है। पाकिस्तान को इस बारे में ओबामा प्रशासन ने गंभीरता से संदेश भेजा है और इन धमकियों को गैरजिम्मेदाराना व्यवहार करार दिया है।

विदेश मंत्रालय ने एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा है कि हमने इसके बारे में (परमाणु हमले की धमकी पर अमेरिका की आपत्ति) उन्हें (पाकिस्तान को) स्पष्ट कर दिया है। अधिकारी के मुताबिक, पिछले दिनों ऐसा बार-बार किया गया है और यह बेहद चिन्ता का विषय है।

गौरतलब है कि पिछले 15 दिन में पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ ने दो बार यह कहा है कि उनका देश भारत के खिलाफ परमाणु हथियारों का इस्तेमाल कर सकता है।

करीब तीन दिन पहले अपने एक टीवी साक्षात्कार में आसिफ ने दावा किया है कि अगर भारत के साथ युद्ध होता है तो पाकिस्तान उसे नष्ट कर देगा।


Advertisement

आसिफ ने धमकी दी है कि पाकिस्तान ने परमाणु हथियार दिखाने के लिए नहीं रखे हैं।

आसिफ ने दावा कियाः

“यदि ऐसी स्थिति पैदा होती है तो हम इसका (परमाणु हथियारों) इस्तेमाल करेंगे और भारत को नष्ट कर देंगे।”

पाकिस्तानी रक्षा मंत्री के इस बयान के बाद ही अमेरिका इस मसले पर गंभीर है और इसे शीर्ष पाकिस्तानी नेतृत्व का गैरजिम्मेदाराना व्यवहार मान रहा है।

इस मसले पर बातचीत करते हुए अमेरिकी रक्षा मंत्रालय के उप प्रवक्ता मार्क टोनर ने अपने दैनिक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि परमाणु सक्षम देशों की कि यह बहुत स्पष्ट जिम्मेदारी है कि वह परमाणु हथियारों एवं मिसाइल क्षमताओं को लेकर संयम बरतें।

इससे पहले अमेरिका में राष्ट्रपति पद की डेमोक्रेट प्रत्याशी हिलेरी क्लिंटन ने चिन्ता जताई थी कि पाकिस्तान के परमाणु हथियार जिहादियों के हाथ लग सकते हैं।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement