अब पाकिस्तानी नागरिकों की अमेरिका में एन्ट्री पर लगेगा प्रतिबंध

author image
Updated on 30 Jan, 2017 at 10:56 am

Advertisement

देश में आतंकवादी घटनाओं को रोकने के लिए कटिबद्ध अमेरिका अब पाकिस्तानी नागरिकों की एन्ट्री पर प्रतिबंध लगा सकता है। ट्रम्प प्रशासन ने इसके स्पष्ट संकेत दिए हैं।

alarabiya
पाकिस्तान में सक्रिय हैं कई आतंकवादी समूह।

सात मुस्लिम देशों के नागरिकों की अमेरिका में एन्ट्री प्रतिबंधित करने के बाद ट्रम्प प्रशासन ने अपनी दलील में कहा है कि इन देशों को ओबामा प्रशासन ने खतरनाक देशों की सूची में रखा था। हालांकि, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के इस फैसले का उनके देश में ही विरोध शुरू हो गया है।

topyaps
डोनाल्ड ट्रम्प अमेरिका के राष्ट्रपति के रूप में शपथ ग्रहण लेते हुए।


Advertisement

गौरतलब है कि अमेरिका में राष्ट्रपति चुनावों के दौरान डोनाल्ड ट्रम्प ने वादा किया था कि वह देश की सुरक्षा को मजबूत करेंगे। व्हाइट हाउस के वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा है कि जो कुछ भी हो रहा है, उसमें कुछ भी नया नहीं है। राष्ट्रपति ट्रम्प ने अपने चुनाव प्रचार और सत्ता हस्तांतरण के दौरान इस संबंध में साफ-साफ कहा था।

topyaps
आतंकवादी से ग्रस्त इस्लामिक देशों से यूरोप और अमेरिका में पलायन की समस्या आम है।



व्हाइट हाउस के चीफ ऑफ स्टॉफ रींस प्रीबस ने एक न्यूज चैनल से हुई बातचीत के दौरान कहा कि जिन देशों पर प्रतिबंध लगाए गए हैं, वहां खतरनाक आतंकवाद को अंजाम दिया जा रहा है। इसी क्रम में प्रीबस ने पाकिस्तान का भी नाम लिया, जहां इस तरह की समस्या है। उन्होंने कहा कि हमें इसे और आगे ले जाने की जरूरत है।

viewstorm
पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ

गौरतलब है कि पाकिस्तान आतंकवाद पर लगाम लगाने के नाम पर अमेरिका से अरबों डॉलर ले चुका है, लेकिऩ इसके कोई सकारात्मक परिणाम नहीं दिखे हैं। इस संबंध में ओबामा प्रशासन पर आरोप भी लगते रहे हैं। डोनाल्ड ट्रंप इस मुद्दे पर कड़ा रुख रखते हैं।

ट्रंप प्रशासन ने एक आदेश जारी कर ईरान, इराक, लीबिया, सूडान, यमन, सीरिया और सोमालिया के नागरिकों के अमेरिका में आने पर कम से कम 90 दिनों तक के लिए प्रतिबंधित कर दिया है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement