आखिर क्यों दुनियाभर की महिलाएं अंडरवियर की तस्वीरें पोस्ट कर रही हैं?

author image
Updated on 17 Nov, 2018 at 5:20 pm

17 साल की एक लड़की के साथ दुष्कर्म हुआ और उसके 27 साल के आरोपी को ज़मानत भी मिल गई। ट्रायल के दौरान अपनी दलीलें पेश करते हुए आरोपी की वकील ने कोर्ट में जालीदार वाला थॉन्ग (अंडरवियर) पेश करते हुए कहा, “क्या ये सबूत काफ़ी नहीं है पीड़िता आरोपी के प्रति आकर्षित थी और वो किसी से मिलने या किसी के साथ के लिए पूरी तरह तैयार थी। आपको ये देखना पड़ेगा वो किस तरह का ड्रेस पहने हुए थी। वो एक लेस फ्रंट वाला थॉन्ग पहनी हुई थी।”

 

सीधे सादे शब्दों में बताएं तो आरोपी की वकील ने रेप होने के पीछे महिला के अंडरवियर को ज़िम्मेदार ठहराया। वकीन का कहना था अंडरवियर को देखने के बाद आरोपी ने उसके साथ इस घटना को अंजाम दिया।

 

 

आरोपी की वकील ने इसे सहमति से सेक्स का मामला बताया। इस बात पर अदालत ने भी आरोपी को बरी कर दिया।

 

बस इस फ़ैसले के बाद से ही आयरलैंड में ‘विक्टिम-ब्लेमिंग’ के खिलाफ़ सोशल मीडिया पर लोगों का ज़बरदस्त गुस्सा फूट रहा है। सड़कों पर लोगों का हुजूम उमड़ रहा है। यही नहीं दुनियाभर की लडकियां इस मुहीम के सपोर्ट में आगे आईं हैं।

 

 

आयरलैंड की एक महिला सांसद अदालत में इस फ़ैसले के विरोध में सदन में अंडरवियर लेकर आईं। सांसद रुथ कैपिंगर ने संसद में नीले रंग का फीतों वाला अंडरवियर दिखाते हुए कहा, “यहां थॉन्ग दिखाना शर्मनाक हो सकता है, लेकिन आपको सोचना होगा जब एक महिला के अंडरवियर को अदालत में दिखाया गया तो उसे कैसा लगा होगा।”

 

 

देश भर की महिलाओं की ओर से किया जा रहा ये प्रोटेस्ट अब चर्चा का विषय बन गया है। लोग सवाल खड़े कर रहे हैं क्या कोई महिला अब अपने मनपंसद का अंडरवियर भी नहीं पहन सकती। इसके खिलाफ़ महिलाएं अपने अंडरवियर की तस्वीरों को #ThisIsNotConsent (यह सहमति नहीं है) हैशटैग के साथ ट्वीट कर रही हैं।

 

 



आयरलैंड से शुरू हुआ ये प्रोटेस्ट देखते ही देखते कई देशों तक पहुंच गया है। महिलाएं अपना विरोध दर्ज कराने के लिए अंडरवियर की तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर कर रही हैं और आरोपी को दोषी ठहराने की मांग अब तेज़ी से उठ रही है।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

किसी महिला के अंडर गारमेंट्स को इस तरह भरी अदालत में दिखाना और ये कहना ये रेप की वजह है, कितना शर्मनाक है। आप भी इसपर अपनी राय हमें ज़रूर दें।

Tags

आपके विचार