उदय चोपड़ा ने कर्नाटक के नतीजों पर ली चुटकी, लोग कह रहे हैं तुम हो बॉलीवुड के राहुल गांधी

author image
Updated on 16 May, 2018 at 2:44 pm

Advertisement

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के परिणाम में बीजेपी पार्टी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। इस चुनाव में बीजेपी ने 104 सीटें जीती, लेकिन वह बहुमत बनाने से 8 सीट पीछे रह गई। दोनों ही बड़ी पार्टियों, कांग्रेस व भाजपा को सरकार बनाने लायक 113 सीटें नहीं मिल सकी। ऐसे में अब कर्नाटक में राजनीतिक सियासत तेज हो गई है। भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस दोनों ही पार्टियां अपनी सरकार बनाने के लिए हर संभव प्रयासों में लगी हुई है। बीजेपी को सत्ता में आने से रोकने के लिए कांग्रेस और जेडीएस ने भी हाथ मिला लिया है। कांग्रेस को 78 और जेडीएस गठबंधन को 37 सीटें मिली हैं।

 

 


Advertisement

एक तरफ जहां जेडीएस ने कांग्रेस के समर्थन में सरकार बनाने का दावा पेश किया है, वहीं सबसे बड़े दल के नाते भाजपा ने भी सरकार बनाने का दावा राज्यपाल के सामने पेश कर दिया है।

 

 

ऐसे में किसी भी पार्टी को पूर्ण बहुमत नहीं मिलने की स्थिति में राज्यपाल का रोल काफी अहम हो जाता है। ऐसे में अब सबकी निगाहें कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला पर टिकी है कि वह किसे सरकार बनाने का निमंत्रण देते हैं।

 

karnataka election

कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला newindianexpress

 

मीडिया से लेकर सोशल मीडिया तक इस बात की चर्चा हो रही है कि किसके हाथ में कर्नाटक की सत्ता आएगी। ऐसे में बॉलीवुड से कई अरसों से गायब उदय चोपड़ा ने भी इस मसले पर एक ट्वीट किया है।

 

 

उदय भले ही अब फिल्मों में नजर न आते हो, लेकिन सोशल मीडिया पर वह काफी एक्टिव रहते हैं। सोशल मीडिया पर उदय कई सामाजिक मुद्दों को लेकर पोस्ट करते रहते हैं। कई बार उन्हें उनके ट्वीट की वजह से ट्रोलिंग का शिकार भी होना पड़ा है।

 

अब एक बार फिर वह चर्चा में आ गए हैं। उदय चोपड़ा ने ट्वीट किया:

 

“मैंने अभी-अभी कर्नाटक के राज्यपाल के बारे में गूगल पर सर्च किया। यह बीजेपी और आरएसएस से जुड़े रहे हैं। मुझे लगता है कि हम सबको पता है कि क्या होने वाला है?”

 

दरअसल, ये ट्वीट करते हुए उदय ने राज्यपाल और बीजेपी के बीच के संबंधों की ओर इशारा किया। दरअसल, वजुभाई वाला गुजरात के पूर्व बीजेपी लीडर रहे हैं। उन्होंने 2002 में नरेंद्र मोदी के लिए अपनी सीट तक छोड़ दी थी। वह मोदी कैबिनेट में बतौर वित्त मंत्री का भी कार्यभार संभल चुके हैं। वह आरएसएस से भी जुड़े रहे हैं।

वहीं, साल 2014 में जब केंद्र में बीजेपी की सरकार आई और मोदी देश के प्रधानमंत्री बने तब वजुभाई वाला को इनाम के रूप में कर्नाटक का राज्यपाल नियुक्त कर दिया गया।



 

 

ऐसे में उदय ने राज्यपाल और बीजेपी के संबंधों पर जोर डालते हुए बीजेपी की सरकार बनने की ओर इशारा करता हुआ यह ट्वीट किया।

 

इस ट्वीट को लेकर उदय चोपड़ा को ट्रोल भी किया जा रहा है। कोई उन्हें कानून समझा रहा है तो कोई उन्हें राजीनीति से दूर ही रहने की सलाह दे रहा है।

 

uday chopra troll

 

 

uday chopra troll

 

 

uday chopra troll

 

 

uday chopra troll

 

 

uday chopra troll

 

 

uday chopra troll

 


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement