सहेलियों ने मौत को किया सेलिब्रेट, जान देने से पहले ली यह सेल्फी

9:36 am 31 Aug, 2017

मध्यप्रदेश में 2 सहेलियों के मिलकर आत्महत्या करने का मामला सामने आया है। इस सुसाइड को जिस तरीके से अंजाम दिया गया, वह हैरत में डालने वाला है। सुसाइड के मामलों में ऐसा आमतौर पर नहीं होता है जब आत्महत्या करने वाला खुद की मौत को सेलिब्रेट करे। जी हां! इंदौर के विजय नगर क्षेत्र में इसी तरह की एक घटना हुई है।

गुरुनगर में रहनेवाली दो सहेलियों ने साथ मिलकर आत्महत्या कर ली है।

संकलित

खबर के मुताबिक़, दोनों ने कोल्ड ड्रिंक्स में जहर मिलाया और पी गईं। फिर उसके बाद दोनों ने केक काटी और आख़िरी सेल्फी ली। आत्महत्या का ऐसा मामला चौंकाने वाला है। पुलिस को दोनों सहेलियों द्वारा लिखा सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें दोनों ने ही जिन्दगी से परेशान होने की बात लिखी है और परिवार को परेशान न करने का निवेदन किया है। बताया गया है कि दोनों ही सहेलियां अपने पतियों से अलग रह रहीं थीं।

संकलित

पिछले लगभग 1 महीने से दोनों एक साथ एक किराए के मकान में रह रही थीं। पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। विजय नगर पुलिस ने युवतियों की पहचान रचना चौधरी और तन्वी वास्कले के रूप में की है। धार की रहने वाली रचना की उम्र 25 साल और बड़वानी के बामनिया की रहने वाली तन्वी की उम्र 24 साल बतायी जा रही है।

पुलिस के मुताबिक़, जो सुसाइड नोट मिले हैं वह 27 अक्टूबर को लिखी गई है, लिहाजा सुसाइड भी उसी दिन हुआ है। रचना कॉल सेंटर और तन्वी कैटरिंग का काम किया करती थी। पहले दोनों ही कैटरिंग में साथ काम किया करती थीं। खुदखुशी से पहले मोबाइल को फ़ॉर्मेट कर दिया गया था, जिससे अंतिम सेल्फी छोड़कर और कुछ भी मोबाइल से बरामद नहीं किया जा सका है।

रचना चौधरी का एक 6 साल का बेटा भी है, जिसे सुसाइड नोट में नाना-नानी के पास रखने को कहा गया है। साथ ही अंतिम संस्कार सुहागिन की तरह नहीं, बेटी की तरह करने की बात की गई है।

यह घटना दिल दहलाने वाली है। पारिवारिक कलह के चलते लोग जिन्दगी तक से हार जाते हैं और जब ऐसा कदम उठाते हैं तो एक स्वस्थ समाज निर्माण की असफलता साफ़ दिखती है।

आपके विचार