ममता ने साधा मोदी सरकार पर निशाना, कहा केंद्र की नीतियों के कारण बंगाल की हालत खराब

author image
Updated on 21 Jul, 2016 at 8:22 pm

Advertisement

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने नरेन्द्र मोदी की सरकार पर एक बार फिर निशाना साधा है।

शहीद दिवस के अवसर पर मध्य कोलकाता के धर्मतल्ला इलाके में एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि केन्द्र सरकार की नीतियों की वजह से ही पश्चिम बंगाल सहित अन्य कई राज्यों की हालत खराब है। उन्होंने केन्द्र पर देश के संघीय ढांचे को खत्म करने की कोशिशों का आरोप लगाया।

शहीद दिवस के मंच का उपयोग करते हुए ममता ने कहा कि नरेन्द्र मोदी की सरकार यह भूल गई है कि राज्य की सरकारें भी चुनाव जीत कर आती हैं।

ममता ने आरोप लगाया कि राज्यों की वित्तीय स्थिति सुधारने की बजाए इनके साथ राजनीति को तरजीह दी जाती है।

उन्होंने आरोप लगाया कि अपना हक मांगने वाली राज्य सरकारों के खिलाफ सीबीआई व ईडी की कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय एजेन्सियों के अत्याचार की वजह से देश के 80 हजार से अधिक उद्योग अन्य देशों में चले गए।


Advertisement

ममता ने केन्द्र का राज्यों को अधिक फंड देने के दावे को झूठा करार दिया। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने पश्चिम बंगाल में चलाई जा रही 39 विकासमूलक योजनाओं को बंद कर दिया है। साथ ही 58 अन्य योजनाओं के लिए आवंटित राशि को कम कर दिया गया है।

ममता ने कहा यह देश एक लोकतांत्रिक देश है और सबको खाने व पहनने का अधिकार है। उन्होंने कहा कि कोई भी पार्टी या सरकार यह तय नहीं कर सकती कि हम क्या खाएं या क्या पहनें।

राज्य में संगठित अपराध के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के बारे में ममता बनर्जी ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं को राज्य की जनता की भलाई के लिए काम करना चाहिए। उन्होंने कहा कि राज्य में मां-माटी-मानुष की सरकार और अाम जनता की सरकार है।

लोगों को मोह-माया त्यागकर लोगों की भलाई के लिए काम करना चाहिए।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement