Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

राखी बांधते समय बहन अपने भाई को क्यों लगाती हैं टीका और अक्षत, जानिए इसके मायने

Updated on 28 August, 2018 at 4:28 pm By

आज देश भर के भाई-बहन पावन पर्व राखी मनाने में मशगूल हैं। भाइयों में उत्साह चरम पर है तो वहीं बहनों के लिए तो बहार का ही दिन है। प्रेम-स्नेह और एक-दूसरे की रक्षा के साथ ही खुशी की चाहत से सराबोर इस पर्व की रस्में भी बेहद खास होती हैं। बहनें भाइयों को टीका और अक्षत लगाकर राखी बांधती हैं और मंगल कामना करती हैं।


Advertisement

 

 

चावल अन्न का सबसे परिष्कृत रूप है और ये सुख-समृद्धि का परिचायक होता है। प्राचीन काल में धन-धान्य से परिपूर्णता की कामना देवताओं से भी की जाती थी। शास्त्रों में तो अन्न को लक्ष्मी और अन्नपूर्णा भगवती से जोड़ कर देखा जाता है। अक्षत और तिलक सकारात्मक ऊर्जा का संचार करता है। बताया जाता है कि इससे नकारात्मक ऊर्जा भी सकारात्मक रूप में बदल हो जाती है।

 

गौरतलब है कि माथे पर दोनों भौंह के मध्य में तिलक लगाने से शरीर में शक्ति का संचार होता है। भौंहों के मध्य स्थान को आज्ञा-चक्र कहा जाता है, लिहाजा ये आत्मविश्वास को बढ़ाता है।



 

चावल (अक्षत) चंद्रमा से जुड़ा हुआ है और इसलिए इससे मन नियंत्रित रहता है। इतना ही नहीं, ये शुद्धता और स्वच्छता का भी प्रतीक होता है।


Advertisement

 

 


Advertisement

आयुर्वेद में तो ये भी बताया गया है कि कलाई पर राखी बांधने से स्वास्थ्य संबंधी लाभ मिलते हैं। राखी से सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है और मनोवैज्ञानिक लाभ भी पहुंचता है। रक्षाबंधन एक सामाजिक, पौराणिक, धार्मिक और ऐतिहासिक महत्व का पर्व है और इसमें श्रावण मास की पूर्णिमा का विशेष महत्व होता है।

Advertisement

नई कहानियां

Sapna Choudhary Songs: सपना चौधरी के ये गाने किसी को भी थिरकने पर मजबूर कर दें!

Sapna Choudhary Songs: सपना चौधरी के ये गाने किसी को भी थिरकने पर मजबूर कर दें!


जानिए कैसे डाउनलोड करें YouTube वीडियो, ये है आसान तरीका

जानिए कैसे डाउनलोड करें YouTube वीडियो, ये है आसान तरीका


प्रधानमंत्री आवास योजना से पूरा होगा ख़ुद के घर का सपना, जानिए इससे जुड़ी अहम बातें

प्रधानमंत्री आवास योजना से पूरा होगा ख़ुद के घर का सपना, जानिए इससे जुड़ी अहम बातें


ब्रह्माजी को क्यों नहीं पूजा जाता है? एक गलती की सज़ा वो आज तक भुगत रहे हैं

ब्रह्माजी को क्यों नहीं पूजा जाता है? एक गलती की सज़ा वो आज तक भुगत रहे हैं


Hindi Comedy Movies: बॉलीवुड की ये सदाबहार कॉमेडी फ़िल्में, आज भी लोगों को गुदगुदाने का माद्दा रखती हैं

Hindi Comedy Movies: बॉलीवुड की ये सदाबहार कॉमेडी फ़िल्में, आज भी लोगों को गुदगुदाने का माद्दा रखती हैं


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें Culture

नेट पर पॉप्युलर