Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

दिव्यांगों के लिए विशेष सुविधाओं वाला देश का पहला रेलवे स्टेशन बना तिरुवनंतपुरम

Published on 3 March, 2017 at 4:25 pm By

तिरुवनंतपुरम का सेंट्रल रेलवे स्टेशन देश का पहला ऐसा स्टेशन बन गया है, जहां दिव्यांगों को ध्यान में रखते हुए व्हीलचेयर सुविधा और ट्रेन पर चढ़ने के लिए रैंप की व्यस्वस्था की गई है। दक्षिणी रेलवे के आधिकारिक आदेश के बाद इसकी शुरुआत कर दी गई है।

दिव्यांगों को मिली इस सुविधा का अगर सबसे ज्यादा श्रेय किसी को जाता है, तो वो हैं विराली मोदी।

आपको बता दें कि मिस व्हीलचेयर इंडिया की रनर अप रही वीराली मोदी का भारतीय रेलवे में एक यात्रा के दौरान बुरा अनुभव रहा था। वीराली मोदी ने इसके बाद ऑनलाइन पेटिशन चलाई। साथ ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  के नाम खुला खत लिखते हुए भारतीय रेलवे में दिव्यांगो को होने वाली असुविधा का जिक्र किया।

Change.org पर डाली गई अपनी इस ऑनलाइन पेटिशन पर विराली मोदी ने उन तीन मौकों का जिक्र किया था, जब उन्हें कुलियों द्वारा अनचाहे स्पर्श और एक तरह के अपमान का सामना करना पड़ा।

virali

विराली मोदी

विराली ने अपने इस खत में सरकार के सामने कुछ मांगे रखी थी, जिनमें से एक थी कि हर ट्रेन में दिव्यांगों के लिए ऐसे कोच होने चाहिए, जिनमें वे आसानी से चढ़ सकें।


Advertisement

विराली के इस पेटिशन को 10,00,000 से अधीक लोगों का समर्थन मिला। यह मामला दक्षिणी रेलवे के ध्यान में एक पूर्व मंडल रेल प्रबंधक सुनील बाजपेयी द्वारा लाया गया।

दक्षिणी रेलवे ने इस मसले पर संज्ञान लेते हुए मुख्य वाणिज्य प्रबंधक अजीत सक्सेना ने 20 फरवरी को आधिकारिक पत्र जारी किया। इस पत्र में ट्रेन पर चढ़ने के लिए दिव्यांगों को पोर्टेबल रैंप और फोल्डएबल व्हीलचेयर की सुविधा मुहैया कराने की की बात कही गई।



एक व्हीलचेयर की सामान्य चौड़ाई 24 इंच होती है, लेकिन रेलवे 22 इंच की और 17 इंच की चौड़ाई वाली दो फोल्डएबल व्हीलचेयर उपलब्ध कराएगी, जिससे आसानी से ट्रेन में चढ़ने में सुविधा होगी।  65 रुपये देकर रेलवे द्वारा इस सुविधा का लाभ लिया जा सकता है।


Advertisement

इस कदम के साथ ही दक्षिणी रेलवे ने रेलवे में महिला कर्मचारियों की उपस्थिति को भी सुनिश्चित किया है।

Advertisement

नई कहानियां

क्रिएटीविटी की इंतहा हैं ये फ़ोटोज़, देखकर सिर चकरा जाए

क्रिएटीविटी की इंतहा हैं ये फ़ोटोज़, देखकर सिर चकरा जाए


G-spot को भूल जाइए, ऑर्गेज़्म के लिए अब फ़ोकस करिए A-spot पर!

G-spot को भूल जाइए, ऑर्गेज़्म के लिए अब फ़ोकस करिए A-spot पर!


Eva Ekeblad: जिनकी आलू से की गई अनोखी खोज ने, कई लोगों का पेट भरा

Eva Ekeblad: जिनकी आलू से की गई अनोखी खोज ने, कई लोगों का पेट भरा


Charles Macintosh ने किया था रेनकोट का आविष्कार, कभी किया करते थे क्लर्क की नौकरी

Charles Macintosh ने किया था रेनकोट का आविष्कार, कभी किया करते थे क्लर्क की नौकरी


जानिए क्या है Google’s Birthday Surprise Spinner, बच्चों से लेकर बड़ों में है इसका क्रेज़

जानिए क्या है Google’s Birthday Surprise Spinner, बच्चों से लेकर बड़ों में है इसका क्रेज़


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें News

नेट पर पॉप्युलर