युद्धपोत INS विराट का निर्माण द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान किया गया था, जानिए और 10 खास बातें

author image
Updated on 7 Mar, 2017 at 12:25 pm

Advertisement

INS विराट भारतीय नौसेना में लंबे समय तक सेवा देने के बाद अब रिटायर हो गया है। आइए जानते हैं इससे जुड़ी 10 खास बातों को।

1. भारतीय नौसेना ने 1980 के दशक में इस युद्धपोत को करीब साढ़े छह करोड़ डॉलर में खरीदा अौर इसे 12 मर्इ 1987 को सेवा में शामिल किया गया था।

2. भारत से पहले यह 1959 में ब्रिटेन के रॉयल नेवी की सेवा में था अौर रॉयल नेवी में 27 सालों तक अपनी सेवा दे चुका है। उस समय इसे एचएमएस हर्मीस के नाम से जाना जाता था।

3. INS विराट ब्रिटिश रॉयल नेवी की तरफ से अर्जेंटीना के खिलाफ फॉकलैड युद्ध में हिस्सा भी ले चुका है।

indianexpress


Advertisement

4. इस युद्धपोत का निर्माण 1943 में दूसरे विश्व युद्ध के दौरान किया गया था।

5. इस युद्धपोत पर करीब 1500 नौसैनिक तैनात रहते थे अौर एक बार में तीन महीने का राशन लेकर समुद्र में निकलता था।

6. इसका वजन करीब 24 हजार टन है। इसकी लंबाई करीब 743 फुट अौर चौड़ाई करीब 160 फुट है।

7. इसकी रफ्तार करीब 52 किलोमीटर प्रतिघंटा है।

8. INS विराट करीब 9 लाख 30 हजार किलोमीटर का सफर कर चुका है।

9. INS विराट का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दुनिया में सबसे लंबे समय (57 साल) तक सेवा देने के लिए दर्ज है।

10. इसे ‘ग्रेट ओल्ड लेडी’ के नाम से भी जाना जाता है।

ibnlive


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement