उत्तर कोरिया मे किए ये काम तो आफ़त में आ जाएगी जान

Updated on 18 Dec, 2018 at 3:02 pm

Advertisement

आपने किम जोंग का नाम तो सुना ही होगा। वही उत्तर कोरिया का तानाशाह किम जोंग जिसके देश की हवा भी उसकी इजाज़त के बिना अपना रुख नहीं मोड़ सकती। देश को अपनी प्रॉपर्टी समझने वाले किम ने अपने देशवासियों पर इतने प्रतिबंध लगा रखे हैं कि उनके लिए सांस लेना भी मुश्किल है। कुछ प्रतिबंध तो इतने अजीब है आपको लगेगा किम शायद पागल है।

 

सरकार के खिलाफ़ बोला तो आपकी बोलती बंद

उत्तर कोरिया में हमारे देश की तरह लोकतंत्र नहीं है, तानाशाही है, इसलिए सरकार के खिलाफ़ बोलने वाले को बिना देरी सूली पर लटका दिया जाता है। इसलिए यहां की जनता सरकार से कभी नहीं पूछती वो उल्टे-सीधे नियम क्यों बनाती है।

किम जोंग (kim jong)

mirror.uk


Advertisement

छोड़ दें ब्लू जींस का मोह

उत्तर कोरिया के लोगों को ब्लू डेनिम पहनने की इजाज़त नहीं है और अगर किसी ने पहन लिया तो उसकी खैर नहीं। किम ने जींस पर बैन लगाया हुआ है, क्योंकि इस पागल तानाशाह का कहना है ब्लू कलर अमेरिका के साम्राज्यवाद की याद दिलाता है। वैसे कुछ लोग तो ये भी कहते हैं जनाब किम खुद तो जींस में फिट आने से रहे इसलिए उसे बैन ही कर दिया।

ताना मारा तो मिलेगी मौत

हमारे देश में तो कुछ हुआ नहीं कि राजनेता से लेकर खिलाड़ियों और बॉलीवुड सितारों तक पर व्यंग्य करते मीम्स की बाढ़ आ जाती है, लेकिन उत्तर कोरिया में अगर कोई ऐसा करे तो उसे सीधे फांसी पर लटका दिया जाता है।

चैनल पर भी सिर्फ़ देसी चलता है

हमारे देश का दिल तो इतना बड़ा है हम दुश्मन देश के कलाकारों को भी काम करने का मौका दे देते हैं, लेकिन उत्तर कोरिया में यदि किसी ने स्वदेशी चैनल के अलावा कुछ और देखा तो उसकी शामत आ जाएगी। इस छोटी सी गलती के लिए भी मौत की सजा दी जा सकती हैं।

शराब पीना सेहत के लिए नहीं, जान के लिए है खतरनाक

अब तक तो आपने शराब से सेहत खराब होने के बारे में सुना ही होगा, लेकिन किम के देश में लोग अपनी मर्जी से किसी भी दिन शराब नहीं पी सकते। कुछ खास दिन निर्धारित किए गए हैं पीने के लिए, उसके अलावा अगर आप पीते हुए पकड़े गए तो सीधे फांसी पर लटका दिए जाओगे। वैसे आपको जानकर हैरानी होगी यहां शराब पर भले ही बैन लगा है, लेकिन गांजा और भांग पीने पर कोई प्रतिबंघ नहीं है।

धर्म भी किम जोंग ही तय करते हैं

जनाब यहां तो धर्म भी अपना नहीं है, लोगों को वही धर्म अपनाना पड़ता है जो तानाशाह किम को पसंद है, वरना वही अंजाम होगा जो हर बात पर होता है।

इंटरनेट, भला क्या चीज़ होती है

बाहरी दुनिया से यहां के लोगों का कोई संपर्क न रहे, इसलिए सनकी तानाशाह ने यहां इंटरनेट पर भी प्रतिबंध लगा रखा है।

घूमने की भी आज़ादी नहीं है

अगर आप सोच रहे हैं इतने बैन के बावजूद लोग यहां रहते क्यों है, क्यों नहीं किसी और देश चले जाते, कम से कम कुछ महीनों के लिए ही सही, तो हम आपका बता दें यहां इसकी भी इजाज़त नहीं है। सिर्फ़ ओलपिंक में लोगों को देश से बाहर जाने की इजाजत मिलती है, वरना नहीं।

गीत भी वही गाएं जो किम को पसंद हो

‘जो तुमको हो पसंद वही बात कहेंगे’ इसके अलावा ‘जो तुमको हो पसंद वही गीत गाएंगे’। जी हां, उत्तर कोरिया के लोगों का हाल कुछ ऐसा ही है। यहां के लोग अपनी पसंद का गीत भी नहीं गुनगुना सकते। एक महिला ने गलती से एक कार्यक्रम में साउथ कोरियन गाना गा दिया। उसे तीन साल के लिए जेल में डाल दिया गया, वहां उसे बुरी तरीके से पीटा जाता था, कई बार रेप किया। नॉर्थ कोरिया से भागने के बाद उस महिला ने अपनी सारी बातें दुनिया को बताईं। इस देश में सिर्फ़ वही गाने गाए जाते हैं जिसमें किम की तारीफ की गई हो।

सजा ऐसी की मौत भी कांप जाए

किम अगर किसी पर भड़क जाएं और उसे कड़ी सज़ा देना चाहे तो वो सजा इतनी खौफनाक होती है कि आप कांप जाएंगे। पहली सज़ा आपको पूरे परिवार के साथ जेल में बितानी होगी, इसके बाद अगली दो पीढ़ियां को जेल में ही पैदा होना होगा और जेल में ही मर जाना होगा। ऐसी सज़ा शायद ही किसी और देश में दी जाती है।

abcnews


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement