थेरेसा मे बनीं ब्रिटेन की दूसरी महिला पीएम, कई चुनौतियों से होगा सामना

author image
Updated on 14 Jul, 2016 at 12:59 pm

Advertisement

थेरेसा मे ब्रिटेन की दूसरी महिला प्रधानमंत्री बन गई हैं। थेरेसा से पहले इस पद तक पहुंचने वाली पहली महिला मार्गरेट थैचर थीं।

डेविड कैमरन के प्रधानमंत्री पद से हटने के बाद थेरेसा मे और एंड्रिया लीडसम इस पद की दौड़ में थीं, लेकिन लीडसम ने सोमवार को अचानक अपना नाम वापस ले लिया।

इसके साथ यह तय हो गया था कि थेरेसा मे ब्रिटेन की दूसरी महिला प्रधानमंत्री बनने वाली हैं।

लीडसम ब्रिटेन की ऊर्जा मंत्री थीं। उन्होंने ब्रिटेन के यूरोपियन यूनियन से बाहर निकलने का समर्थन किया था और इसकी वजह से वह चर्चा में भी थीं।


Advertisement

वहीं 59 वर्षीया थेरेसा मे पिछले 6 साल से ब्रिटेन की गृह मंत्री रही हैं। मे के समक्ष अनिश्चितता के दौर से गुजर रही अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने की चुनौती है।

उनका मानना है कि ब्रिटेन में अच्छी सैलरी वाली नौकरियां तैयार करनी होगी, साथ ही यूरोपियन यूनियन से निकलने के बाद दुनिया के सामने खुद को नए अंदाज में पेश करना होगा।



थेरेरा मे ने यह भी साफ किया है कि ब्रिटेन के यूरोपियन यूनियन छोड़ने पर दोबारा जनमत संग्रह नहीं कराया जाएगा। साथ ही यूरोपियन यूनियन में फिर से जाने की कोई कोशिश नहीं होगी।

थेरेसा मे की प्रतिद्वंदी कंजरवेटिव नेता एंड्रिया लीडसम हाल में विवादों में रहीं थीं। एक साक्षात्कार में उन्होंने कहा था कि ‘मां होने के नाते मेरा देश पर थेरेसा से ज्यादा हक है क्योंकि उनके तो बच्चे ही नहीं हैं।’

उनके इस बयान के बाद उनकी काफी आलोचना हुई थी।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement