दिल खोल का ‘जनता का पैसा’ लुटा रहे हैं तेलंगाना के मुख्यमंत्री ! अब मंदिर में चढ़ाएंगे सोने की मूंछ

author image
Updated on 24 Feb, 2017 at 5:49 pm

Advertisement

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव बेहद महंगे शौक रखते हैं। हालांकि, अपने महंगे शौक पूरा करने के लिए वह ‘राज्य के खजाने का उपयोग’ करते हैं। दो दिन पहले वह सुर्खियों में तब आए थे, जब उन्होंने तिरुपति के मंदिर में साढ़े 5 करोड़ रुपए के आभूषण चढ़ाए थे।

चर्चा है कि ये स्वर्ण आभूषण राज्य के बजट से बनवाए गए थे। यानी कि ये आभूषण ‘जनता के पैसे’ से बने थे।

अब चर्चा है कि राव महबूबाबाद जिले के कुरावी में स्थित भगवान वीरभद्र स्वामी के मंदिर में सोने की मूंछ चढ़ाएंगे।


पिछले बुधवार को राव ने भगवान बालाजी मंदिर में 5.45 करोड़ रुपए के आभूषण चढ़ाए थे। वह अपने परिजनों के साथ एक विशेष विमान से यहां पहुंचे। उनके साथ कई मंत्री व शीर्ष अधिकारी भी मंदिर पहुंचे थे।

चंद्रशेखर राव इससे पहले मंदिरों में इस तरह के चढ़ावे के लिए चर्चा में रहे हैं। पिछले साल अक्टूबर महीने में उन्होंने करीब साढ़े 3 करोड़ रुपये का सोने का मुकुट वारंगल में देवी भद्रकाली के मंदिर में भेंट किया था।

अब के. चंद्रशेखर राव पर सरकारी फंड के दुरुपयोग के आरोप लग रहे हैं। विरोधियों का आरोप है कि केवल अपनी निजी मन्नत पूरी होने के लिए राव पब्लिक फंड की बर्बादी कर रहे हैं।

गौरतलब है कि राव अपने आलीशान लाइफस्टाइल के लिए चर्चा में रहे हैं। पिछले साल नवंबर महीने में उन्होंने अपने आलीशान घर में गृहप्रवेश किया था। हैदराबाद के बेगमपेट इलाके में स्थित यह घर 9 एकड़ के क्षेत्र में बना हुआ है।

इस घर में बुलेटप्रूफ खिड़कियां लगी हैं। यही नहीं, इस घर में 250 सीट वाला एक विशेष थिएटर भी है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement