तराजू में तौले जा रहे थे तेजस्वी यादव, लोगों ने किया कुछ ऐसा कि मच गई खलबली

author image
Updated on 21 Feb, 2018 at 3:43 pm

Advertisement

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को हाल ही में एक ऐसी स्थिति का सामना करना पड़ा, जिसका अंदेशा शायद उनको भी नहीं था।

 

दरअसल, तेजस्वी यादव सहरसा में लोगों के बीच पहुंचे थे। वहां के एक स्वास्थ्य उपकेंद्र प्रांगण में उनका स्वागत समारोह आयोजित किया गया था। इस समारोह में राष्ट्रीय जनता दल के नेता और सह जिला पंचायत उपाध्यक्ष छत्री यादव ने तेजस्वी यादव को सिक्कों से तौलने का कार्यकम रखा था।

 


Advertisement

 

इस कार्यक्रम को देखने के लिये जनता का हुजूम उमड़ गया। जैसे ही तेजस्वी यादव तराजू में बैठे, उपाध्यक्ष छत्री यादव ने तराजू के दूसरे हिस्से को सिक्कों से भरना शुरू कर दिया।

 



 

सिक्कों को देख वहां खड़ी भीड़ में बेकाबू हो गई।भीड़ देखते ही देखते तराजू के पास आ गई। फिर जैसे तैसे तेजस्वी यादव को वहां से बाहर सही सलामत निकाला गया।

उनके वहां से निकलने के बाद भीड़ बेकाबू हो गयी और वहां सिक्कों को लूटने की होड़ सी मच गई। बच्चे, बूढ़े, जवान और महिलाएं, सब सिक्के ले जाने लगे। लोगों की दिलचस्पी तेजस्वी की बातों में नहीं बल्कि सिक्कों में ज्यादा थी।

 

बता दें कि तेजस्वी यादव ने बिहार में पिता लालू प्रसाद यादव की विरासत को संभाला हुआ है। चारा घोटाले में जेल में बंद लालू प्रसाद यादव तेजस्वी को अपने बाद पार्टी का मुखिया बनाने का ऐलान पहले ही कर चुके हैं। तेजस्वी यादव बिहार के उपमुख्यमंत्री की कुर्सी से हटने के बाद से लगातार नीतीश कुमार पर हमलावर रुख अपनाए हुए हैं।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement