जीटॉक से लेकर विंडोज विस्टा तक – वर्ष 2017 में ही बंद हो चुकी हैं ये 9 तकनीक

Updated on 12 May, 2018 at 2:20 pm

Advertisement

तकनीक से लेकर बाकी चीज़ों तक पूरी दुनिया में बहुत तेज़ी से बदलाव आ रहे हैं, अगर आप नई चीज़ों को सीखने के लिए तैयार हैं तो फिर ठीक है, लेकिन आप यदि लकीर के फकीर की तरह पुरानी चीज़ों को लेकर बैठे रहेंगे, तो भविष्य में आपको बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। तकनीक की दुनिया में हर दिन नई-नई चीज़ों का अविष्कार हो रहा है और पुरानी चीज़ें इतिहास बनती जा रही हैं। 2017 में भी कई तकनीक इतिहास बन चुकी हैं, यानी अब वो आगे फिर कभी नज़र नहीं आने वाली।

 

1. एओएल इंस्टेंट मैसेंजर

 

कभी एओएल बहुत पॉप्युलर मैसेंजर हुआ करता था, मगर फेसबुक और व्हाट्सअप के आने से इसके यूज़र्स धीरे-धीरे कम होते गए और पिछले साल कंपनी ने आधिकारिक तौर पर इसे मार्केट से हटा दिया।

 

2. विंडोज़ विस्टा

 

विंडोज़ का विस्टा ऑपरेटिंग सिस्टम जब लॉन्च हुआ तो इसने खूब सुर्खियां बंटोरी, मगर यूज़र्स ये ऑपरेटिंग सिस्टम कुछ खास पसंद नहीं आया और माइक्रोसॉफ्ट ने जल्द ही विंडोज़ 7 और 10 लॉन्च किया। अब कंपनी ने विंडोज़ विस्टा से संबंधित अपडेट भेजना बंद कर दिया है, जिससे साफ है कि ये अब बंद हो चुका है।

 

3. विंडोज़ 10 मोबाइल

 

माइक्रोसॉफ्ट के वरिष्ठ अधिकारी ने हाल में टविटर पर जानकारी दी कि कंपनी अब विंडोज़ 10 मोबाइल के लिए कोई नया फीचर या हार्डवेयर लॉन्च नहीं करने वाली, यानी अब ये मोबाइल इतिहास बन गए हैं।

 

4. आईपॉड नैनो और शफल

 

इसे देखकर शायद आपको भी अपने बीते दिन याद आ गए होंगे, क्योंकि तब आप भी इसका इस्तेमाल करते होंगे, मगर पिछले साल ही इसे बंद करने की घोषणा कर दी गई।

 

5. माइक्रोसॉफ्ट किनेक्ट

 


Advertisement

Xbox 360 और Xbox One  गेमिंग कंसोल के लिए सेंसिंग एक्सेसरीज़ माइक्रोसॉफ्ट किनेक्ट कभी बेहद लोकप्रिय था, लेकिन अब ये तकनीक बंद हो चुकी है।

 

6. 3डी टेलीविज़न

 

जब बाज़ार में 3डी टेलीविज़न आए तो लोगों को इससे बहुत उम्मीद थी, मगर इसका रिस्पॉन्स अच्छा नहीं रहा। सैमसंग ने 3डी टीवी को 2016 से सपोर्ट देना बंद कर दिया और पिछले साल एलजी और सोनी ने भी इसे सपोर्ट देना बंद कर दिया और इस तरह 3डी टीवी का भविष्य खत्म हो गया।

 

7. जीटॉक

 

गूगल का ये लोकप्रिय मैसेंजर साल 2017 में खत्म हो गया। दरअसल, इसकी जगह गूगल ने हैंगआउट नाम से नया मैसेंजर शुरू किया है।

 

8. गूगल क्रोम एप्स

 

गूगल अब विंडीज़, मैक और लिनक्स वर्ज़न में क्रोम एप्लिकेशन को सपोर्ट नहीं करता।

 

9. माइक्रोसॉफ्ट ग्रूव्स म्यूज़िक

 

माइक्रोसॉफ्ट म्यूज़िक प्लेयर का ‘ग्रूव्स म्यूज़िक’ पिछले साल से बंद हो गया। कंपनी ने इसकी आधिकारिक घोषणा की थी।

 

आज आप जिन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर रहे हैं, हो सकता है कि अगले साल तक वो भी बंद हो जाए, इसलिए बदलाव के लिए हमेशा खुद को तैयार रखें।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement