…तो क्या ढाका के आतंकवादियों का साथी था फराज हुसैन ?

author image
Updated on 6 Jul, 2016 at 10:47 am

Advertisement

ढाका हमले में भारतीय लड़की तारिषी के साथ मारे गए जिस फराज हुसैन को हीरो बनाकर पेश किया जा रहा है, वह दरअसल अातंकवादियों का साथी था। ढाका से प्रकाशित डेली निरपेक्ख की इस रिपोर्ट में दावा किया गया है कि तारिषि का मित्र 20 वर्षीय फराज आयाज हुसैन इस घटना में मारे गए आतंकवादियों में से ही एक था।

फराज की एक तस्वीर जिसमें वह आतंकवादी निबरास के साथ दिखाई दे रहा है, फेसबुक पर वायरल हो रही है।

इस तस्वीर को देखकर सुरक्षा एजेन्सियां अंदाजा लगा रही हैं कि फराज और निबरास लंबे समय से एक-दूसरे को जानते थे और संपर्क में थे।



परताल बांग्लादेश की रिपोर्ट के मुताबिक, इस विडियो में एके 47 लेकर दिखाई देने वाला आतंकवादी फराज ही है।


Advertisement

इससे पहले भारतीय मीडिया में आई कई रपट में कहा जा रहा था कि फराज ने भारतीय लड़की तारिषि की दोस्ती में अपनी जान दे दी।

इन रपटों के मुताबिक, आतंकवादियों ने उसे रेस्टोरेन्ट से जाने के लिए कहा था, लेकिन उसने तारिषि को छोड़कर जाना उचित नहीं समझा।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement