पश्चिम बंगाल में तोड़ी गई स्वामी विवेकानंद की मूर्ति, ये बेहद ही शर्मनाक है

author image
Updated on 1 Sep, 2018 at 7:59 pm

Advertisement

देश की एक और महान शख्सियत की प्रतिमा को नुकसान पहुंचाया गया है। अब पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले में स्वामी विवेकानंद की मूर्ति को क्षतिग्रस्त किया गया है। स्थानीय लोगों ने मोहम्मद बाजार में लगी स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा को जब टुटा हुआ पाया तो उन्होंने तत्काल पुलिस को इसकी सुचना दी।

 

विवेकानंद एक ऐसी शख्सियत हैं, जिन्होंने भारतीय अध्यात्म और संस्कृति को दुनियाभर में अभूतपूर्व पहचान दिलाई। उनकी प्रतिमा के साथ किया गया ऐसा दुर्व्यवहार शर्मनाक है।

 

 

दस फुट ऊंचे प्लेटफॉर्म पर लगी स्वामी विवेकानंद की इस मूर्ति का अनावरण 2015 में एक स्थानीय क्लब की ओर से किया गया था।

शरारती तत्वों ने इस मूर्ति के चेहरे को पूरी तरह से खराब कर दिया।

 

इस पूरी घटना को लेकर स्थानीय क्लब के सदस्य विद्युत मंडल ने कहाः

 


Advertisement

“जिन्होंने भी ये किया है वो स्वामी विवेकानंद के बारे में नहीं जानते। हमें इस क्षेत्र में स्वामी जी के बारे में जागरूकता लाने की जरूरत है, जिससे कि भविष्य में ऐसी घटनाएं न हो।”

 

 

बता दें कि इस साल ही पश्चिम बंगाल के बर्धमान जिले के काटवा में देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू की मूर्ति पर काली स्याही फेंकी गई थी।

 

 

इस साल मार्च में कोलकाता में जन संघ के संस्थापक श्यामाप्रसाद मुखर्जी की मूर्ति के साथ भी तोड़फोड़ की गई थी। उनकी मूर्ति पर कालिख पोत दी गई थी। आरोप है कि बीजेपी के खिलाफ विरोध जताने के लिए वामपंथी विचारधारा के छात्र कार्यकर्ताओं ने ऐसा किया था।

 

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement