सुरेश रैना का आलोचकों को जवाब- बेटी की तबियत थी खराब, उसके लिए लिया खेल से ब्रेक

author image
Updated on 1 Apr, 2017 at 8:39 pm

Advertisement

सुरेश रैना काफी लम्बे समय से भारतीय क्रिकेट टीम से बाहर हैं। उनको लेकर कयास लगते रहे हैं कि वह अब खेल जे ज्यादा अपने परिवार को समय दे रहे हैं। ऐसे में रैना के क्रिकेट को अलविदा कहने की खबरें भी चलने लगी।

उनके फॉर्म और क्रिकेट के प्रति उनके लगाव पर भी सवाल उठने लगे, लेकिन अब खुद सुरेश रैना ने इन सभी कयासों पर लगाम लगाते हुए बताया है कि वो आखिर इतने दिनों तक खेल से दूर क्यों रहे।

एक अंग्रेजी अखबार से अपनी बातचीत में सुरेश रैना ने अपने क्रिकेट छोड़ने की खबरों का खंडन करते हुए कहाः

“लोगों को काम चाहिए बोलने का, एेसा है, वैसा है। मुझे अपनी बेटी को अस्पताल लेकर जाना होता है। मुझे घर के भी काम होते हैं और मैं ये नहीं देख सकता कि लोग उसके लिए मेरी आलोचना करें। कोई बाहर का बंदा नहीं आएगा ये सब करने।”

इस बातचित में रैना ने बताया कि उनकी 11 महीने की बेटी ग्रेसिया की तबियत बेहद खराब थी और उनकी भी तबियत सही नहीं थी। इस बारे में रैना ने बीसीसीआई को बता दिया था।


Advertisement

आगे रैना ने कहा कि रणजी और दिलीप ट्रॉफी में कुछ मैच खेलने के बाद उन्होंने खुद ही खेल से दूरी बना ली थी क्योंकि परिस्थितियां ही कुछ ऐसी हो गई थी। रैना ने कहाः

“पिछले कुछ महीने काफी चुनौती भरे थे। मुझे क्रिकेट से दूर होना पड़ा, क्योंकि हालात ही ऐसे थे। मेरी और मेरी बेटी दोनों की ही तबीयत खराब थी। अगर तब भी मेरी आलोचना होती है, तो मैं क्या कह सकता हूं। कोई भी बाल-बच्चे वाला इंसान यह अच्छी तरह समझ जाएगा।”

लेकिन अब लम्बे समय से बाहर चल रहे बाएं हाथ के बल्लेबाज सुरेश रैना 5 अप्रैल से शुरू हो रहे आईपीएल के 10वें संस्करण में अपनी मजबूत दावेदारी पेश करने के लक्ष्य के साथ मैदान में वापसी करने को तैयार हैं।

Advertisement

आपके विचार