सूरत, राजकोट देश के सबसे स्वच्छ रेलवे स्टेशन; वाराणसी पीछे

author image
Updated on 12 Jul, 2016 at 8:43 pm

Advertisement

गुजरात के सूरत और राजकोट देश के दो सबसे स्वच्छ रेलवे स्टेशन हैं, जबकि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी का रेलवे स्टेशन साफ-सफाई के मामले में फिसड्डी है। जबकि मुगलसराय को सबसे गंदा स्टेशन बताया गया है।

indiarailinfo staticflickr wikimedia

यही नहीं, 10 सबसे साफ-सूथरे स्टेशनों में गुजरात का ही वडोदरा स्टेशन आठवें नम्बर पर रहा है। ‘स्वच्छता सर्वेक्षण 2016’ के तहत यह जानकारी दी गई है।

इस सर्वेक्षण को जारी किया है रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने।

सर्वेक्षण में 16 जोन के 407 रेलवे स्टेशनों को लेकर लोगों से स्वच्छता से जुड़े विभिन्न मानकों पर प्रश्न पूछे गए। सर्वेक्षण के लिए स्टेशनों को अलग-अलग श्रेणियों में बांट दिया गया था। यह सर्वेक्षण ‘स्वच्छ रेल, स्वच्छ भारत अभियान’ के तहत कराया गया है।

इस सर्वेक्षण में 60 करोड़ रुपए सालाना की आय वाले ए1 श्रेणी के 75 रेलवे स्टेशनों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी का स्थान आखिरी रहा। हालांकि वाराणसी अन्य स्टेशनों मसलन रायपुर, मुजफ्फरपुर, भोपाल, कानपुर सेंट्रल, सियालदह और गुवाहाटी स्टेशनों से सफाई के मामले में बेहतर है।


Advertisement

ए1 श्रेणी के अन्य स्टेशनों में बिलासपुर, सोलापुर, मुंबई सेंट्रल, चंडीगढ़, भुवनेश्वर, मदुरई और न्यू जलपाईगुड़ी स्टेशनों का प्रदर्शन श्रेष्ठ रहा।

बताया गया है कि सर्वेक्षण का उद्देश्य स्टेशन परिसर में सफाई को लेकर यात्रियों को संतुष्ट करना है।

जैसा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वायदा किया था, रेल मंत्रालय 2019 में महात्मा गांधी की 150वीं जयंती से पहले स्टेशन परिसरों में पूर्ण स्वच्छता का लक्ष्य हासिल करना चाहता है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement