एडमिरल सुनील लांबा ने संभाली भारतीय नौसेना की कमान

author image
3:19 pm 31 May, 2016

Advertisement

एडमिरल सुनील लांबा ने नौसेना प्रमुख का पदभार संभाल लिया है। उन्होंने नौसेना प्रमुख एडमिरल आर के धवन का कार्यकाल समाप्त होने के बाद नौसेना की कमान संभाली है।

 

दिल्ली के साउथ ब्लॉक में आयोजित समारोह में पदभार संभालने के बाद एडमिरल लांबा ने कहा कि भारतीय समुद्री सीमा की सुरक्षा सुनिश्चित करना उनका प्राथमिक कर्तव्य होगा।

सरकार ने सुनील लांबा को गत 6 मई, 2016 को नौसेना की कमान देने का फैसला किया था।


Advertisement

58 वर्षीय लांबा नेविगेशन और दिशा पाठ्यक्रम में विशेषज्ञ होने के साथ परम विशिष्ट सेवा पदक और अति विशिष्ट सेवा पदक समेत सेना के कई पदकों से सम्मानित हैं।

वह एक जनवरी 1978 को भारतीय नौसेना में शामिल हुए थे। सुनील लांबा के नाम कई उपलब्धियां दर्ज है।

30 साल से ज्यादा के अपने सेवा काल में समृद्ध परिचालन एवं स्टाफ अनुभव रखने वाले लांबा ने जंगी जहाज आईएनएस सिंधुदुर्ग और फ्रिगेट आईएनएस दुनागिरि पर नेविगेटिंग अधिकारी के तौर पर अपनी सेवाएं प्रदान की है।

वह चार जंगी जहाजों आईएनएस काकीनाडा, आईएनएस हिमगिरि और आईएनएस रणविजय और आईएनएस मुंबई की कमान भी संभाल चुके हैं।

सुनील लांबा इससे पहले मुंबई स्थित पश्चिमी कमान के फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ थे। उन्होंने इसी साल फरवरी में पश्चिमी कमान के प्रमुख का पद संभाला था। इससे पहले वह कोच्चि स्थित दक्षिणी कमान के फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ हुआ करते थे। लांबा का नाम पिछले कई महीने से नए नौसेना प्रमुख के तौर पर चल रहा था।

लांबा का कार्यकाल 31 मई 2019 यानि तीन वर्ष तक के लिए होगा।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement