इस राज्य ने गाय को राष्ट्रमाता घोषित करने का संकल्प पारित किया, बिना अड़चन के पास हुआ बिल

Updated on 20 Sep, 2018 at 2:06 pm

Advertisement

बुधवार को उत्तराखंड विधानसभा ने गाय को राष्ट्र माता का दर्जा दिए जानने के प्रस्ताव को सर्वसम्मति से पारित कर दिया। इस संकल्प को राज्य की पशुपालन मंत्री रेखा आर्य ने सदन के पटल पर रखा, जिसके बाद सदन द्वारा इस प्रस्ताव को हरी डंडी दिखा दी गई। राज्य की पशुपालन मंत्री रेखा आर्य ने विधानसभा में यह प्रस्ताव रखते हुए कहा कि यह सदन भारत सरकार से अनुरोध करता है कि गाय को राष्ट्रमाता घोषित किया जाये।

 

 

जैसे ही पशुपालन मंत्री ने इस प्रस्ताव को सदन के आगे रखा तो सत्ता पक्ष और विपक्ष दोनों ने ही इस प्रस्ताव को बिना किसी चर्चा और अड़ंगे के पास कर दिया। पशुपालन मंत्री ने कहा कि गाय को मां का रूप माना जाता है और किसी बच्चे को मां का दूध न मिलने पर उसे गाय का दूध ही दिया जाता है।

 

इस प्रस्ताव  को पहले बीजेपी के वरिष्ठ  नेता और विधायक हरबंस कपूर द्वारा सदन पटल पर मंगलवार को रखा जाना था लेकिन सत्र से पहले प्रश्नकाल लंबा चलने और उसके बाद महंगाई पर विपक्ष के तीखे हमले होने के कारण इसे सदन में नहीं रखा जा सका।

 


Advertisement

 

विधान सभा में गाय को राष्ट्र माता का दर्जा देने का संकल्प पास कर केंद्र को भेजा गया है। इस बीच प्रस्ताव पर चर्चा करते हुए नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने कहा-

 

“गाय को राष्ट्र माता का दर्जा दिए जाने में कोई हर्ज़ नहीं है, लेकिन गाय को राष्ट्र माता का दर्जा देने के साथ ही हमें ये भी सुनिश्चित करना होगी कि राज्य में कहीं भी गाय बेसहारा नज़र न आए ”

 

 

राज्य में ये प्रस्ताव पारित होने के बाद अब केंद्र के पास विचाराधीन रहेगा, देखने होगा कि इस प्रस्ताव पर केंद्र कितनी जल्दी अपने फैसला सुनाती है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement