अब अंतरिक्ष में चलेगा सफाई अभियान, जापान कर रहा है तैयारी

author image
Updated on 12 Dec, 2016 at 1:16 pm

Advertisement

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेन्सी नासा का मानना है कि अंतरिक्ष में पृथ्वी की कक्षा में 5 लाख से अधिक कचरे के टुकड़े फैले हुए हैं। और अब अंतरिक्ष में फैले कचरे की सफाई कि जिम्मेदारी जापान ने ली है।

जी हां, जापान में शिन्जो आबे की सरकार के नेतृत्व में अंतरिक्ष में सफाई अभियान चलाने की तैयारी चल रही है। कचरे को समेटने के लिए करीब 700 मीटर लंबा जाल बनाया गया है। इस जाल को बनाया है मछली पकड़ने का जाल बनाने में विशेषज्ञ कंपनी नितो सिमो ने। अल्युमीनियम और स्टील वायर के इस जाल को बनाने में समय लगा है 10 साल का। यही नहीं, कचरे को बटोरने के लिए एक कारगो शिप को भेजा जाएगा।

बताया गया है कि अंतरिक्ष में मौजूद इन कचरों में उपग्रहों के बेकार हो चुके पुर्जे आदि शामिल हैं, जिन्हें अतंरिक्ष से अविलंब हटाने की जरूरत है।


Advertisement

नितो सिमो ने कचरा बटोरने के लिए बने इस जाल को जापानी अंतरिक्ष एजेन्सी जाक्सा के साथ मिलकर बनाया है। इस परियोजना के प्रमुख कोइची इनोउ कहते हैं कि ”जापानी अंतरिक्ष एजेंसी अगले महीने इसका ट्रायल करेगी। यह प्रयोग अंतरराष्ट्रीय सफाई मिशन का एक अहम हिस्सा है।”

उन्होंने कहा कि अंतरिक्ष में अंतरिक्ष में सैटेलाइट्स और रॉकेट का फैला कचरा करीब 28,165 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से घूम रहा है। इसका छोटा हिस्सा भी किसी भी कम्युनिकेशन नेटवर्क को नुकसान पहुंचा सकता है। इससे उपग्रहों को नुकसान हो सकता है।

विशेषज्ञों का कहना है कि जाल में लगी लुब्रीकेटेड और इलेक्ट्रो डाॅयनामिक रस्सियों से इतनी ऊर्जा पैदा होगी कि कचरा अपने आप खिंचा चला आएगा।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement