“मस्जिदों की अजान से नींद में खलल, यह गुंडागर्दी बंद हो”

author image
Updated on 5 Sep, 2017 at 12:37 pm

मस्जिदों की अजान उन लोगों के लिए बड़ी समस्या है, जो अल-सुबह नहीं उठना चाहते। इस पर लंबे समय से बहस चलती रही है कि सुबह-सवेरे मस्जिद से निकलने वाली अजान को ढोने की मजबूरी क्यों होनी चाहिए? मस्जिदों में लगे लाउडस्पीकर से लोगों की नीन्द में खलल पड़ती है।

अब यही सवाल गायक सोनू निगम ने भी उठाया है।

सोनू ने ट्वीट किया है कि अगर वो मुस्ल‍िम नहीं हैं तो मस्जिद की अजान की आवाज से उनको क्यों रोज सुबह उठना पड़ता है। साथ ही उन्होंने यह भी लिखा कि कब तक हम लोगों को ऐसी धार्मिक रीतियों को जबरदस्ती ढोना पड़ेगा।

सोनू निगम का ट्वीट आप यहां पढ़ सकते हैं।

सोनू निगम के इस ट्वीट से नई बहस छिड़ी है कि आखिर अजान सुनकर उठने की मजबूरी क्यों होनी चाहिए।

अपने ट्वीट पर आने वालों के जवाबों के प्रत्युत्तर में सोनू ने लिखाः जब मोहम्मद ने इस्लाम की स्थापना की थी, जब बिजली नहीं थी। फिर एडिसन के आविष्कार के बाद ऐसे चोंचलों की क्या जरूरत है।

साथ ही सोनू निगम ने ऐसी बातों को गुंडागर्दी बताया है और कहा है कि और यह भी लिखा कि वह मंदिर या गुरुद्वारे में ऐसा नहीं होता कि बिजली का प्रयोग करके वे सुबह-सुबह किसी की नींद खराब करें।

अंत में सोनू ने इसे गुंडागर्दी करार दिया है।

इस बहस पर आपकी क्या राय है?

आपके विचार