Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

70 करोड़ रुपए का सांप का जहर बरामद, बंगाल से जुड़े हैं तार

Published on 25 May, 2017 at 1:56 pm By

पश्चिम बंगाल में 70 करोड़ रुपए मूल्य के सांप के जहर बरामद होने की खबर है।

दक्षिण दिनाजपुर जिले के भारत-बांग्लादेश सीमा पर एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है, जिसके पास से ये जहर बरामद किए गए हैं। ये जहर दो बुलेट प्रूफ जार में रखे गए थे। यह बरामदगी सीमा सुरक्षा बल ने की है।



माना जा रहा है कि गिरफ्तार व्यक्ति सुवेन टिग्गा का संबंध अंतर्राष्ट्रीय गिरोह से है, जिसमें कम से कम 30 से 35 लोग संलग्न हैं। गिरफ्तार व्यक्ति दक्षिण दिनाजपुर जिले के तपन थाना अंतर्गत काशीबाटी का रहने वाला है।

सीमा सुरक्षा बल व वन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि जहर की तस्करी बांग्लादेश से भारत के अलग-अलग हिस्सों में की जा रही है।

सैकड़ों करोड़ रुपए का अवैध कारोबार

माना जा रहा कि भारत में सालाना सैकड़ों करोड़ रुपए के सांप के जहर का कारोबार होता है।


Advertisement

जंगलों में जहरीले सांपों, नागों को ढूंढने, उन्हें पकड़ने और उनसे जहर निकालने के बाद इनकी तस्करी में दर्जनों टीम लगी हुई हैं। भारत में नागों की 1500 प्रजातियां पाई जाती हैं। विशेषज्ञ मानते हैं कि जहर के तस्करों के इस कारोबार पर जल्द ही सख्त रोकथाम नहीं लगी तो जंगलों में बाघों की तरह ही नागों का अस्तित्व भी संकट में पड़ जाएगा।

Advertisement

नई कहानियां

Tamilrockers पर लीक हुई ‘छिछोरे’, देखने के साथ फ्री में डाउनलोड कर रहे लोग

Tamilrockers पर लीक हुई ‘छिछोरे’, देखने के साथ फ्री में डाउनलोड कर रहे लोग


Sapna Choudhary Songs: सपना चौधरी के ये गाने किसी को भी थिरकने पर मजबूर कर दें!

Sapna Choudhary Songs: सपना चौधरी के ये गाने किसी को भी थिरकने पर मजबूर कर दें!


जानिए कैसे डाउनलोड करें YouTube वीडियो, ये है आसान तरीका

जानिए कैसे डाउनलोड करें YouTube वीडियो, ये है आसान तरीका


प्रधानमंत्री आवास योजना से पूरा होगा ख़ुद के घर का सपना, जानिए इससे जुड़ी अहम बातें

प्रधानमंत्री आवास योजना से पूरा होगा ख़ुद के घर का सपना, जानिए इससे जुड़ी अहम बातें


ब्रह्माजी को क्यों नहीं पूजा जाता है? एक गलती की सज़ा वो आज तक भुगत रहे हैं

ब्रह्माजी को क्यों नहीं पूजा जाता है? एक गलती की सज़ा वो आज तक भुगत रहे हैं


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें Animals

नेट पर पॉप्युलर