बर्फ की ऊंची चोटियों से घिरा है सिखों का पवित्र तीर्थस्थल हेमकुंड साहिब

9:52 pm 2 Mar, 2016

Advertisement

हेमकुंड साहिब सिखों का एक पवित्र तीर्थ स्थल है, जो उत्तराखंड के चमोली जिला में स्थित है। हेमकुंड का मतलब होता है बर्फ का कुंड या बर्फ की झील। समुद्र तल से 4632 मीटर की ऊंचाई पर स्थित यह स्थान एक बर्फीली झील के किनारे सात पहाड़ों के बीच है।


Advertisement

इन्हीं सात पहाड़ों पर निशान साहिब झूलते हैं। इस स्थान पर ऋषिकेश और बद्रीनाथ होते हुए पैदल चढ़ाई से ही पहुंचा जा सकता है।

मान्यताओं के मुताबिक, हेमकुंड साहिब उन लोगों के लिए खास महत्व रखता है, जो दशम ग्रन्थ में विश्वास रखते हैं।

किम्वदन्तियों के अनुसार, यहां पहले एक मंदिर था जिसका निर्माण लक्ष्मण ने करवाया था। यहां सिखों के दसवें गुरु गोबिन्द सिंह ने पूजा अर्चना की थी। बाद में इसे गुरूद्वारा घोषित कर दिया गया।

यह स्थान बर्फ की अलग-अलग चोटियों से घिरा हुआ है। यहां नजदीक ही फूलों की घाटी है, जो वाकई मनोरम है।

हेमकुंड से एक छोटी जलधारा निकलती है, जिसे हिमगंगा कहते हैं।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement