…तो क्या राज्यसभा से इस्तीफा देकर फंस गए हैं सिद्धू ?

author image
Updated on 19 Aug, 2016 at 9:34 pm

Advertisement

पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू के राजनीतिक भविष्य को लेकर अटकलबाजियों का दौर जारी है।

पिछले महीने राज्यसभा से इस्तीफा देने वाले सिद्धू के बारे में कहा जा रहा था कि वह जल्दी ही आम आदमी पार्टी में शामिल हो सकते हैं।

यहां तक कि कुछ “उत्साही” टीवी चैनलों ने अपनी रिपोर्ट में उन्हें आम आदमी पार्टी में शामिल घोषित कर दिया। हालांकि, बाद में यह साफ हो गया कि सब अटकलबाजी है।

अब माना जा रहा है कि सिद्धू राज्यसभा से इस्तीफा देकर फंस गए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, नवजोत सिद्धू पंजाब विधानसभा चुनावों में आम आदमी पार्टी से मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवारी चाहते थे, जिससे आप ने कथित तौर पर इन्कार कर दिया है।

यही नहीं, सिद्धू से यह भी कहा गया है कि पार्टी के संविधान के मुताबिक, विधायकी का टिकट उनकी पत्नी या उनमें से सिर्फ एक को ही दिया जा सकता है। नवजोत कौर अमृतसर (ग्रामीण) से भाजपा की विधायक हैं।


Advertisement

राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि पहले आम आदमी पार्टी के प्रमुख अरविन्द केजरीवाल ने सिद्धू को पार्टी में शामिल करने के बारे में भरोसा दिलाया था, लेकिन अब उन पर तमाम शर्तें लाद दी गई हैं, जिसके लिए सिद्धू तैयार नहीं हैं।

दरअसल, आम आदमी पार्टी का मानना है कि पंजाब में पार्टी के पक्ष में हवा पहले से बनी हुई है, ऐसे में सिद्धू के आने या न आने से कोई विशेष फर्क नहीं पड़ेगा। आप ने कहा कि राज्यसभा से इस्तीफा देना उनका अपना फैसला था और पार्टी में शामिल होने का फैसला भी पूरी तरह से उनका होगा।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने ट्वीट किया हैः

सिद्धू के पक्ष में एक बात है कि उन्होंने अब तक आधिकारिक रूप से भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता से इस्तीफा नहीं दिया है। लेकिन लगता नहीं है कि भाजपा की तरफ से मान-मनौव्वल का कोई प्रयास चल रहा है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement