पहले भी कानून की धज्जियां उड़ाते रहे हैं शिवसेना सांसद रवीन्द्र गायकवाड़

author image
Updated on 24 Mar, 2017 at 2:21 pm

Advertisement

एयर इन्डिया की फ्लाईट में एक सांसद द्वारा 60 वर्षीय बुजुर्ग एयरालाइन कर्मचारी को चप्पलों से पीटने की घटना से देश सन्न है। उस्मानाबाद से शिवसेना के सांसद रवीन्द्र गायकवाड़ अपनी करतूत के लिए माफी मांगने से इन्कार कर दिया है। वहीं, अब एयरलाइन फेडरेशन ने तय किया है कि रवीन्द्र गायकवाड़ अब हवाई यात्रा नहीं कर सकेंगे। उन्हें प्रतिबंधित कर दिया गया है।

रवीन्द्र गायकवाड़ के लिए विवादों में रहना कोई नई बात नहीं है। वह पहले भी कानून की धज्जियां उड़ाते रहे हैं और अपनी दबंगई के लिए कुख्यात रहे हैं।

वर्ष 2014 में लोकसभा चुनावों में सांसद चुने जाने के कुछ ही महीने बाद वह रमजान के दौरान कथित तौर पर एक मुस्लिम कैटरर को जबरन रोटी खिलाने की वजह से चर्चा में आए थे। यह घटना नई दिल्ली के महाराष्ट्र सदन में हुई थी। हालांकि, बाद में शिवसेना से सांसद ने इस घटना को बकवास बताया था।

मीडिया रिपोर्ट् में कहा गया था कि रवीन्द्र गायकवाड़ सहित शिवसेना के 11 सांसद महाराष्ट्र सदन में मिलने वाली रोटी की खराब गुणवत्ता से गुस्से में थे। उन्होंने आरोप लगाया था कि मुस्लिम कैटरिंग सुपरवाइजर द्वारा उन्हें महाराष्ट्रियन भोजन नहीं दिया जा रहा है। इस रिपोर्ट के मुताबिक पिछले कुछ सालों में रवीन्द्र गायकवाड़ पर कई आपराधिक इल्जाम लगे हैं।

रवीन्द्र गायकवाड़ अब विमान में यात्रा नहीं कर सकेंगे

शिवसेना सांसद रवीन्द्र गायकवाड़ अब विमान यात्रा नहीं कर सकेंगे। फेडेरेशन ऑफ इंडियन एयरलाइंस (FIA) ने गायकवाड़ के विमान यात्रा करने पर प्रतिबंध लगा दिया है। FIA में जेट एयरवेज, इंडीगो, स्पाइसजेट और गोएयर विमान कंपनियां सदस्य हैं। वहीं, एयर इंडिया ने भी उन्हें नो फ्लायर की सूची में डाल दिया है।


Advertisement

हालांकि, गायकवाड़ अड़े हुए हैं।

शिवसेना ने जवाब मांगा

इस बीच, गायकवाड़ पर जहां कानूनी कार्रवाई की तलवार लटक रही है, वहीं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने भी उनसे घटना पर जवाब तलब किया है। पार्टी का कहना है कि अगर गायकवाड़ दोषी पाए जाते हैं तो उन पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

विवादों के बाद शिवसेना सांसद ने शेखी बघारते हुए कहा था कि उन्होंने 60 वर्षीय कर्मचारी को 25 चप्पल मारे थे।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement