ड्रेसिंग रूम का शीशा तोड़ने वाले बांग्लादेशी खिलाड़ी का नाम सामने आ गया है, लगा जुर्माना

author image
Updated on 21 Mar, 2018 at 3:53 pm

Advertisement

हाल ही में खत्म हुई निदाहास ट्रॉफी पर भारत ने अपना कब्ज़ा किया। ये टी-20 त्रिकोणीय सीरीज अपने खेल के साथ-साथ मैदान पर हंगामे के कारण भी चर्चा का विषय बनी रही।

 

 


Advertisement

श्रीलंका को रोमांचक मुकाबले में हराकर फाइनल में जगह बनाने वाली बांग्लादेश टीम ने इस सीरीज में अच्छा प्रदर्शन किया। हालांकि, इस प्रदर्शन के अलावा बांग्लादेशी टीम एक और वजह से सुर्खियों में रही। श्रीलंका और बांग्लादेश के बीच ग्रुप स्टेज का आखिरी मैच चल रहा था। दोनों ही टीमें इस मैच को हर हालत में जीतना चाहती थी। करो या मरो के इस मुकाबले मे दोनों टीमों के बीच तनाव चरम पर था।

 

 

बांग्लादेश को आखिरी ओवर में जीत के लिए 6 गेंदों पर १२ रन चाहिए थे। इसरू उदाना ने ओवर की पहली गेंद फेंकी, जिसे मुस्ताफिजुर रहमान मिस कर गए। जबकि, दूसरी बॉल उन्होंने बाउंसर डाली और इस पर रहमान रन आउट हो गए। इस पर बांग्लादेश बिगड़ गए और दोनों गेंदों को नो बॉल करने की मांग करने लगे।

 

बांग्लादेश का एक एक्स्ट्रा खिलाड़ी तो मैदान पर आकर ही श्रीलंकन खिलाडियों से भिड़ने लगा। टीम के कप्तान शाकिब अल हसन और अन्य खिलाड़ी बाउंड्री लाइन के किनारे खड़े होकर विरोध करने लगे। गुस्साए शाकिब ने तो चल रहे खेल के बीच में से ही अपने खिलाड़ियों को वापस आने को कह दिया। इस तरह कई मिनटों तक खेल बाधित रहा।

 

 



बांग्लादेश ने इस मैच को महमूदुल्लाह के छ्क्के के बदौलत जीत तो लिया, लेकिन उनकी खेल भावना पर सवालियां निशान खड़े हो गए।

 

 

मैदान में विवाद खड़ा करने के बाद बांग्‍लादेशी खिलाड़ियों ने ड्रेसिंग रूम में भी जमकर तोड़फोड़ की थी। ड्रेसिंग रूम में लगा कांच तोड़ दिया गया था, जिसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी।

इसके बाद मैच रेफरी क्रिस ब्रॉड ने शीशा तोड़ने वाले शख्स का नाम जानने के लिए जांच के आदेश दिए थे। श्रीलंकाई अख़बार के मुताबिक, वर्किंग स्टाफ ने इस घटना के पीछे बांग्लादेश के कप्तान शाबिक अल हसन का हाथ बताया है।

 

 

बताया गया है कि हसन ने शीशे को इतनी जोर से धक्का मारा कि वह टूट गया। अब इसकी मरम्‍मत पर 1.47 लाख रुपये का खर्च आया है।

 

 

शाबिक के मैदान पर इस बुरे रवैये के लिए उनकी मैच फीस का 25 फीसदी जुर्माना लगाया गया है। आईसीसी ने उनके खाते में एक डिमेरिट अंक भी जोड़ा है। इनके अलावा बांग्लादेशी खिलाड़ी नुरुल हसन पर भी मैच फीस का 25 फीसदी जुर्माना लगाया गया है और उनके खाते में भी एक डिमेरिट अंक जोड़ा गया है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement