शहाबुद्दीन की जमानत रद्द, वापस जाना होगा जेल

author image
Updated on 30 Sep, 2016 at 1:57 pm

Advertisement

राष्ट्रीय जनता दल के पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन की जमानत शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने रद्द कर दी। अब आपराधिक चरित्र वाले इस पूर्व सांसद को फिर से जेल जाना पड़ेगा। गुरुवार को इस मामले में सुनवाई के बाद जस्टिस पीसी घोष तथा अमिताव रॉय की बेंच ने फैसला सुरक्षित रखा था।

गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले पर बिहार सरकार को फटकार लगाई थी। कोर्ट ने नीतीश कुमार की सरकार से पूछा था कि – क्या शहाबुद्दीन को जमानत मिलने तक आप नींद में थे?


Advertisement

इससे पहले शहाबुद्दीन ने गुरुवार को ही सुप्रीम कोर्ट से जमानत रद्द न करने की गुजारिश की थी। शहाबुद्दीन ने कहा था कि वह बिहार से बाहर कहीं भी रहने के लिए तैयार हैं। वह वर्ष 2005 से ही जेल में बंद रहा था।

सीवान में तेजाबकांड के मामले में शहाबुद्दीन को इसी साल फरवरी महीने में जमानत मिल गई थी, लेकिन सीवान की कोर्ट ने राजीव रोशन की हत्या के मामले में शहाबुद्दीन को दोषी मानते हुए उम्रकैद की सजा सुनाई थी। शहाबुद्दीन इस मामले में पटना हाईकोर्ट पहुंचा और उसे जमानत दे दी गई।

13 साल बाद जेल से बाहर निकले शहाबुद्दीन के बाहर आने पर उसकी जमानत को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement