#MeToo: अब इस योग गुरु पर लगा यौन शोषण का आरोप

Updated on 24 Oct, 2018 at 5:49 pm

Advertisement

भले ही #MeToo के आरोपों में फंसे बहुत से लोगों पर अब तक कोई ठोस कार्यवाई न हो सकी हो, लेकिन भारतीय समाज में इसका असर साफ़ नज़र आने लगा है। कम से कम इस अभियान ने महिलाओं को अपनी आवाज़ उठाने का एक मौका तो दिया ही है। सालों से जो आवाज़े डर के चलते दबी हुई थीं वो अब खुलकर सुनाई देने लगी हैं। एक के बाद एक कई नामों से पर्दा उठ रहा है। #MeToo ने समाज के पिछे छिपे एक ऐसे स्याह सच को उजागर किया है, जिससे न जाने कितनी महिलाएं शोषित हो चुकी हैं। अब तक फ़िल्म और मीडिया जगत से लेकर कई नामचीन हस्तियों का नाम इस मूवमेंट में सामने आया है।

 

 

#MeToo में अब एक जाने-माने अष्टांग योग गुरू का नाम सामने आया है। हाल ही में अष्टांग योग के पौराणिक संस्थापक श्रीकृष्णा पट्टाभि जोइस पर एक महिला ने योग के दौरान यौन शोषण करने का आरोप लगाया है।

 

आरोप लगाने वाली महिला का नाम कैरन रेन है। कैरन ने अष्टांग योग गुरु पट्टाभि जोइस की एक विचलित करने वाली तस्वीर शेयर की है। 52 वर्षीय इस महिला ने एक निजी वेबसाइट के साथये तस्वीर शेयर की। इस तस्वीर को साझा करने के साथ ही महिला ने अष्ठांग योग गुरु पट्टाभि जोइस पर कई गंभीर आरोप लगाए है।

 

 

केरन कहती हैं, “मैं ये तस्वीर शेयर करना चाहती थी क्योंकि मुझे लगता है कि ये तस्वीर मेरे साथ हुए यौन शोषण की कहानी को बयां करती है।’’

 


Advertisement

केरन का कहना है अपने साथ हुई ज़्यादती को सबके सामने रखने के लिए उन्हें काफी हिम्मत करनी पड़ी। कई वर्षों तक हिम्मत जुटाने के बाद आखिरकार उन्होंने सबके सामने यह सच रखा।

 

 

फेसबुक पर एक पोस्ट शेयर करते हुए केरन ने लिखा, ”कई महिलाओं के पोस्ट पढ़ने के बाद मुझे समझ आया अपने साथ हुई ज़्यादतियों को लोगों के साथ शेयर करना कितना ज़रूरी है। पट्टाभि योग व्यायाम के दौरान हर रोज़ मेरा यौन उत्पीड़न किया करते थे। मैंने अकसर उन्हें दूसरी महीलाओं के साथ भी ऐसा ही करते देखा।

 

 

बता दें कि जोइस की मृत्यु 93 वर्ष की उम्र में हुई थी। उनकी योगा शौली विश्वभर में काफी लोकप्रिय हुई थी। जोइस के योगा स्टाइल को विश्वभर में ख्याति प्राप्त थी।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement