Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

12 साल में 500 से अधिक बच्चियों का यौन शोषण, सीरियल रेपिस्ट गिरफ्तार

Published on 16 January, 2017 at 10:53 am By

दिल्ली में पुलिस ने एक ऐसे व्यक्ति को गिरफ्तार किया है, जिसने पूछताछ में स्वीकार किया है कि पिछले 12 सालों के दौरान उसने 500 से अधिक बच्चियों का यौन शोषण किया है। इस दौरान उसे सिर्फ एक बार गिरफ्तार किया गया था। उसके निशाने पर आम तौर पर स्कूल से घर लौट रहीं 8 से 10 साल की बच्चियां होती थीं।

इस रिपोर्ट के मुताबिक, 38 साल की उम्र का सुनील रस्तोगी स्कूल से लौट रही बच्चियों को अपना शिकार बनाता था। आरोपी न केवल शादीशुदा है, बल्कि उसके बच्चे भी हैं। उसके दो बेटे और तीन बेटियां हैं, जिनमें बड़ी बेटी 15 साल की है।

बताया गया है कि सुनील रस्तोगी ने 2500 से अधिक नाबालिग लड़कियों को निशाना बनाने की कोशिश की थी। इस दौरान उसे वर्ष 2006 में सिर्फ 6 महीने के लिए उत्तराखंड के रुद्रपुर में स्थित जेल में बंद रहना पड़ा था। जेल की सजा उसे बदल नहीं सकी थी और उसने एक बार फिर इस तरह की वारदात को अंजाम देना शुरू कर दिया। पुलिस के दावे के मुताबिक, आरोपी ने दिल्ली, गाजियाबाद और रुद्रपुर सहित कई इलाकों में इस तरह की वारदातों को अंजाम दिया है। जांच के दौरान सीसीटीवी फुटेज में एक बच्ची ने आरोपी को पहचानने का दावा किया है। मूल रूप से उत्तर प्रदेश के रामपुर के रहने वाले सुनील ने फिलहाल रुद्रपुर में में अपना ठिकाना बना रखा था।


Advertisement

दिल्ली पुलिस ने एक टास्क फोर्स का गठन किया है, जो उसके आपराधिक कारनामों का कच्चा-चिट्ठा खोलेगी। पुलिस यह मानकर चल रही है कि रस्तोगी के अधिकतर कारनामे पुलिस में दर्ज नहीं हैं।

Advertisement

नई कहानियां

इस फ़िल्ममेकर के साथ काम करने को बेताब हैं तब्बू, कहा अभिनेत्री न सही, असिस्टेंट ही बना लो

इस फ़िल्ममेकर के साथ काम करने को बेताब हैं तब्बू, कहा अभिनेत्री न सही, असिस्टेंट ही बना लो


इस शख्स की ओवर स्मार्टनेस देख हंसते-हंसते पेट में दर्द न हो जाए तो कहिएगा

इस शख्स की ओवर स्मार्टनेस देख हंसते-हंसते पेट में दर्द न हो जाए तो कहिएगा


मां के बताए कोड वर्ड से बच्ची ने ख़ुद को किडनैप होने से बचाया, हर पैरेंट्स के लिए सीख है ये वाकया

मां के बताए कोड वर्ड से बच्ची ने ख़ुद को किडनैप होने से बचाया, हर पैरेंट्स के लिए सीख है ये वाकया


क्रिएटीविटी की इंतहा हैं ये फ़ोटोज़, देखकर सिर चकरा जाए

क्रिएटीविटी की इंतहा हैं ये फ़ोटोज़, देखकर सिर चकरा जाए


G-spot को भूल जाइए, ऑर्गेज़्म के लिए अब फ़ोकस करिए A-spot पर!

G-spot को भूल जाइए, ऑर्गेज़्म के लिए अब फ़ोकस करिए A-spot पर!


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें

नेट पर पॉप्युलर