लंदन में चम्मच चुराते पकड़े गए ममता बनर्जी के साथ गए कई पत्रकार, भरना पड़ा 50 पौंड जुर्माना!

author image
Updated on 10 Jan, 2018 at 3:09 pm

Advertisement

पत्रकारिता को वैसे ईमानदारी और सचाई का पेशा माना जाता है, लेकिन विदेशी धरती में हुई एक घटना ने इस पेशे के साथ-साथ देश को भी शर्मसार कर दिया है।

दरअसल, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ आधिकारिक दौरे पर लंदन गए कई वरिष्ठ पत्रकारों पर कथित तौर पर चांदी की चम्मचें चुराने का आरोप लगा है।

आउटलुक की एक रिपोर्ट के मुताबिक, ऐसा तब हुआ जब यहां के एक लग्जरी होटल में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के सम्मान में डिनर आयोजित था। यह सारी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई, जिसे होटल के स्टॉफ लाइव देख रहे थे।


Advertisement

 

होटल के सुरक्षा अधिकारियों ने देखा कि कुछ लोग चांदी की चम्मच चुराकर पर्स और बैग में डाल रहे थे। जब उन्होंने पूरी तफ्तीश की आखिर ये कौन लोग हैं तो अधिकारी हैरान रह गए। इनकी पहचान ममता के साथ गए वरिष्ठ पत्रकारों और संपादकों के रूप में की गई।

 

मेहमानों की इस हरकत पर उनके पास अलार्म बजाने का विकल्प था, लेकिन अधिकारियों ने सोचा कि ऐसे उनका अपमान होगा, जिनके सम्मान में यह डिनर दिया गया है। फिर डिनर का कार्यक्रम पूरा होने के बाद सुरक्षा अधिकारी पत्रकारों के पास गए और उनसे धीमी आवाज में चम्मच व अन्य सामान निकालकर रख देने को कहा। ये सुनकर पत्रकार खुद हैरत में पड़ गए आखिर कैसे इन्हें पता चल गया। लेकिन वो शायद भूल गए थे कि वो लंदन हैं बंगाल नहीं, जहां कैमरे अच्छे से काम करते हैं।

 

ऐसा नहीं है कि जिन्होंने चोरी की उन्हें कैमरे लगे होने का अंदाजा नहीं था। उन्हें अच्छे से पता था कि कैमरे लगे हैं। लेकिन उन्हें लगा कि कैमरे काम नहीं कर रहे हैं, क्योंकि बंगाल में अक्सर ऐसा होता है कि सीसीटीवी कैमरे काम नहीं करते। यहां उससे एकदम उलट हुआ, यहां सारे कैमरे काम भी कर रहे थे और सुरक्षा अधिकारी उन पर नजर भी बनाए हुए थे।

 

सांकेतिक तस्वीरliveinternet

एक को छोड़कर सभी ने लज्जित अंदाज़ में सारा चोरी का सामान निकालकर रख दिया।,लेकिन एक वरिष्ठ पत्रकार उलझ गए कि उन्होंने चोरी नहीं की है और वह जांच करने को कहने लगे। उनको विश्वास था कि वह बच निकलेंगे क्योंकि उन्होंने चोरी का सामान अपने साथी के बैग में रख दिया था।

सुरक्षा अधिकारियों ने कहा कि आपकी हर हरकत सीसीटीवी में कैद है, लिहाज़ा हम पुलिस को बुला रहे हैं। बाद में होटल के सुरक्षा दस्ते ने सहयोग न करने पर पूरे मामलों को सार्वजनिक करने की भी धमकी दी। फिर जाकर आरोपी पत्रकार ने चोरी की बात को स्वीकारा। इसके बाद चम्मच लौटा 50 पाउंड का जुर्माना भी अदा किया।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement