Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

माउंट एवरेस्ट पर ली गई गई इस सेल्फी से साफ है कि धरती गोल है!

Published on 13 April, 2018 at 6:32 pm By

सेल्फी अमूमन मौज में आकर ली जाती है। इसका कोई मतलब हो, ऐसा कम ही होता है। अब तो ग्रुप फोटो भी सेल्फियाना होता जा रहा है। कुल मिलाकर देखें तो सेल्फी पर बात बेमानी है। हालांकि, एक सेल्फी ने धरती को लेकर नई बहस शुरू कर दी है। या यूं कह सकते हैं कि धरती को चपटी मानने वालों को यह एक करारा जवाब है।


Advertisement

 

कुछ लोग मानते हैं कि धरती पूरी तरह सपाट है। धरती को गोल बताने की कवायद को ये लोग कॉन्सपिरेसी थ्योरी करार देते हैं। ऐसा मानने वाले इतने लोग हैं कि इन्होंने अपनी एक अलग कम्यूनिटी बना रखी है। इस कम्युनिटी का नाम फ़्लैट अर्थ सोसाइटी है। ये लोग इस बात को साबित करने पर तुले रहते हैं कि धरती गोल नहीं, बल्कि सपाट है।

 

एवरेस्ट से आई ये सेल्फ़ी फ़्लैट अर्थ सोसाइटी के लोगों को निराश कर सकती है।

Checkmate Flat Earth Society from pics

 


Advertisement

माउंट एवरेस्ट दुनिया का सबसे ऊंची चोटी है जो समुद्रतल से करीब 8,848 मीटर ऊपर है। यहां पहुंचे एक पर्वतारोही ने सेल्फी लेकर सोशल मीडिया साइट रेडिट्ट पर पोस्ट किया है।

 



उसने लिखा हैः

‘फ़्लैट अर्थ सोसाइटी को शह और मात।’

 

एक अन्य रेडिट्ट यूजर ने बात का समर्थन करते लिखा है कि ये सामान्य सी बात है कि अगर धरती चपटी होती तो सबसे ऊंची चोटी से पूरी धरती दिख सकती,  लेकिन ऐसा नहीं है, मात्र 2.5 प्रतिशत हिस्सा ही देखना संभव हो रहा है।

 

अब फ़्लैट अर्थ सोसाइटी वाले ये देखिए क्या बता रहे हैं।

 

 


Advertisement

अब देखना ये है कि बहस कहां तक पहुंचती है। सोशल मीडिया से कुछ परिणाम निकलता है तो ये एक बड़ी बात होगी। ये भी गौर करने वाली बात है कि आखिर धरती को चपटी मानने के पीछे तर्क क्या है!

Advertisement

नई कहानियां

सुहागरात से जुड़ी ये बातें बहुत कम लोग ही जानते हैं

सुहागरात से जुड़ी ये बातें बहुत कम लोग ही जानते हैं


नेहा कक्कड़ के ये बेहतरीन गाने हर मूड को सूट करते हैं

नेहा कक्कड़ के ये बेहतरीन गाने हर मूड को सूट करते हैं


मलिंगा के इस नो बॉल को लेकर ट्विटर पर बवाल, अंपायर से हुई गलती से बड़ी मिस्टेक

मलिंगा के इस नो बॉल को लेकर ट्विटर पर बवाल, अंपायर से हुई गलती से बड़ी मिस्टेक


PUBG पर लगाम लगाने की तैयारी, सिर्फ़ इतने घंटे ही खेल पाएंगे ये गेम!

PUBG पर लगाम लगाने की तैयारी, सिर्फ़ इतने घंटे ही खेल पाएंगे ये गेम!


अश्विन-बटलर विवाद पर राहुल द्रविड़ ने अपना बयान दिया है, क्या आप उनसे सहमत हैं?

अश्विन-बटलर विवाद पर राहुल द्रविड़ ने अपना बयान दिया है, क्या आप उनसे सहमत हैं?


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें Nature

नेट पर पॉप्युलर