दूसरे विश्व युद्ध से जुड़ी ये दिलचस्प बातें नहीं जानते होंगे आप

Updated on 8 Aug, 2017 at 12:44 pm

Advertisement

द्वितीय विश्व युद्ध 1939 से 1945 तक चलने वाला विश्व-स्तरीय युद्ध था। लगभग 70 देशों की थल-जल-वायु सेनाएं इस युद्ध में सम्मलित थीं। इस युद्ध में विभिन्न देशों के लगभग 10 करोड़ सैनिकों ने हिस्सा लिया और यह मानव इतिहास का सबसे ज़्यादा घातक युद्ध साबित हुआ। इस महायुद्ध में 5 से 7 करोड़ लोगों की जानें गईं। हर स्कूल की इतिहास की किताबों में इस युद्ध का ज़िक्र है, लेकिन इससे जुड़ी कुछ ऐसी बातें भी हैं, जिसका जिक्र आपको किसी किताब में नहीं मिलेगा।

1. इस युद्ध के दौरान जर्मनी ने कबूतरों को ट्रेनिंग देकर उनसे जासूस करवाई और उन्हें संदेश देने के लिए इस्तेमाल किया, लेकिन बाद में ये उनके लिए ही सिरदर्द बन गया। बाद में इसके तोड़ के रूप में बाज़ो को प्रशिक्षण दिया गया जो कबूतरों को पकड़ते थे।

2. दूसरे विश्व युद्ध के दौरान पराग्वे का यहूदी शहर युद्ध के असर से अप्रभावित रहा, क्योंकि हिटलर वहां विलुप्त जाति के लिए विदेशी म्यूज़ियम बनाना चाहता था।


Advertisement

3. इस युद्ध में हालांकि अमेरिका सीधे तौर से जुड़ा था, लेकिन इस युद्ध में सिर्फ 7 अमेरिकियों के मारे जाने की आधिकारिक जानकारी है और ये सब एक ही परिवार के थे.



4. ब्रिटेन ने नई रडार तकनीक विकसित की जिसके ज़रिए वे अंधेरे में भी नाजियों की योजना पर नज़र रख सकते थे और उन्हें मार गिरा सकते थे। इस तकनीक को गुप्त रखने के लिए ब्रिटिश खुफिया विभाग ने ये लाइने इज़ाद की ‘गाजर खाने से ब्रिटिश सैनिकों की आंखों की रोशनी बढ़ रही हैं।’

5. विश्व युद्ध खत्म होने के बाद भी जापानी इंटैलिजेंस ऑफिसर हीरो ओनोडा 30 सालों तक फिलिपिंस के जंगलों में छुपता रहा, उसे इस बात की जानकारी ही नहीं थी जापान ने सरेंडर कर दिया है और युद्ध खत्म हो चुका है।

6. युद्ध खत्म होने के बाद जब जापान के राजा ने भाषण दिया तो यह पहली बार था जब जापानी जनता ने अपने राजा की आवाज़ सुनी।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement